माँ के प्रेम में रोड़ा बन रहा था बेटा फिर उठाया ये घिनौना कदम

माँ के प्रेम में रोड़ा बन रहा था बेटा फिर उठाया ये घिनौना कदम

औरंगाबाद से क्राइम के सामने आए नए मुद्दे ने सभी को हैरानी में डाल दिया है। जी दरअसल मिली जानकारी के अनुसार बिहार की औरंगाबाद में पुलिस ने बहुचर्चित सूरज हत्याकांड का खुलासा हाल ही में कर ही दिया है। मिली जानकारी के अनुसार पुलिस ने इस हत्याकांड में शामिल दोनों हत्यारों को भी पकड़ लिया है। समाचार है कि इस मुद्दे के बारे में बात करते हुए एसडीपीओ अनूप कुमार ने कहा, ''प्रेम-प्रसंग में सूरज की मर्डर कर दी गयी थी व मर्डर करने वाला कोई व नहीं बल्कि उसकी माँ का आशिक़ कपिल पासवान ही था। ' इस मुद्दे में आगे उन्होंने यह भी बोला कि, 'सूरज चूंकि उन दोनों के प्यार की राह में बाधक बन रहा था इस कारण उसे मार दिया गया। '

पुलिस के अनुसार, 'कपिल का बार-बार घर आना 15 वर्षीय सूरज को अच्छा नहीं लगता था। इस बात को लेकर सूरज ने कई बार विरोध भी जताया था। उसके विरोध को देखते हुए कपिल ने उसे राह से हटा देना ही उचित समझा ताकि उसे असहमति न हो। ' पुलिस का बोलना है उसके बाद कपिल ने अपने बहनोई सुनील पासवान को साथ लिया व 12 जून को गला दबाकर सूरज की मर्डर कर दी। मर्डर के बाद दोनों ने मृत शरीर को फेंक दिया। इस मुद्दे में पुलिस ने जब मौके का मुआयना किया तो उनको एक वोटर आईडी कार्ड मिल गया।

वहीँ उसी कार्ड को आधार बनाकर जाँच प्रारम्भ हुई तो सारे राज खुलने प्रारम्भ हो गए। अंत में यह हकीकत सामने आया कि सूरज के पिता रोज़ी-रोटी को लेकर बाहर रहते थे ऐसे में सूरज की मां का शारीरिक संबंध गांव के ही युवक कपिल के साथ बन गया था। यह बात सूरज को पसंद नहीं थी इसी वजह से उसे मार दिया गया। अब इस मुद्दे में पुलिस ने दोनों आरोपियों को कारागार भेज दिया है।