मिर्जापुर: मास्क नहीं लगाने पर पुलिस ने चालान काटा, तो पिता ने लगाई डांट, फिर युवक ने उठा लिया ये कदम

मिर्जापुर: मास्क नहीं लगाने पर पुलिस ने चालान काटा, तो पिता ने लगाई डांट, फिर युवक ने उठा लिया ये कदम

विंध्याचल कोतवाली क्षेत्र के गैपुरा पुलिस चौकी के पास गुरुवार की सुबह बाइक सवार का कोविड में चालान होने के बाद घर पर परिजनों ने डांट दिया। इसके बाद दोपहर में युवक ने विषाक्त पदार्थ का सेवन कर जान दे दी। पहले तो परिजनों ने डाक्टर पर सही उपचार न करने का आरोप लगाया, उसके बाद शाम को चौकी प्रभारी पर चालान करने का आरोप लगाते हुए शव को सड़क पर लेकर जाम लगाने लगे।

पुलिस के रोकने पर घर पर शव रखकर चौकी प्रभारी पर कार्रवाई की मांग करने लगे। सूचना पर सीओ सिटी, सीओ सदर और आस-पास के थाने की फोर्स गई। परिजन डीएम-एसपी को बुलाने और पुलिस पर कार्रवाई की मांग पर अड़े रहे। प्रभारी एसपी के जांच कर कार्रवाई के आश्वासन पर रात नौ बजे परिजन माने और शव पोस्टमार्टम के लिए दिया।

विजयपुर के पांडेयपुर बस्ती के निवासी सुरेश का 19 वर्षीय पुत्र आशीष कुमार अपने साथी 16 वर्षीय शनि सिंह के साथ गुरुवार की सुबह पेट्रोल लेने के लिए बाइक से जा रहा था। विजयपुर धाम के पास गैपुरा चौकी प्रभारी पुलिस के साथ वाहन चेकिंग कर रहे थे। चौकी प्रभारी ने आशीष कुमार व शनि सिंह का मास्क न पहनने पर 500-500  रुपये चालान काट दिया। 

आशीष कुमार पेट्रोल लेने के बाद घर गया तो एक हजार जुर्माना लगने की बात बता कर रसीद दिखाया। इस पर पिता ने फटकार लगाई तो आशीष कुमार विषाक्त सेवन कर लिया।  तबियत बिगड़ने पर परिजन उसे प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सर्रोई ले गए।  

जहां पर प्रभारी चिकित्साधिकारी डा. महेंद्र चौधरी ने प्राथमिक उपचार के बाद हालत खराब होने पर मंडलीय अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। परिजन आशीष कुमार को नटवां स्थित एक निजी अस्पताल में ले गए। जहां चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया।