प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर योगी सरकार पर साधा निशाना

 प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर योगी सरकार पर साधा निशाना

लखनऊ: उत्तर प्रदेश कांग्रेस पार्टी (UP Congress) अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ (Minority Cell) के चेयरमैन शाहनवाज आलम (Shahnawaz Alam) की गिरफ़्तारी पर पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने ट्वीट कर योगी सरकार (Yogi Government) पर निशाना साधा है। उन्होंने बोला है कि उनकी पार्टी जनता के मुद्दों पर आवाज उठाने के लिए प्रतिबद्ध है। उत्तर प्रदेश सरकार पुलिस के दमन पर अन्य पार्टियों की आवाज को तो दबा सकती है, लेकिन कांग्रेस पार्टी की नहीं। उन्होंने बोला कि कांग्रेस पार्टी के सिपाही पुलिस की लाठियों व फर्जी मुकदमों से डरने वाले नहीं हैं।


प्रियंका गांधी ने शाहनवाज आलम की गिरफ्तारी का सीसीटीवी फुटेज ट्वीट करते हुए लिखा, "कांग्रेस के नेता व कार्यकर्ता जनता के मुद्दों पर आवाज उठाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। बीजेपी सरकार उत्तर प्रदेश पुलिस को दमन का औज़ार बनाकर दूसरी पार्टियों को आवाज उठाने से रोक सकती है, हमारी पार्टी को नहीं। देखिए किस तरह उत्तर प्रदेश पुलिस ने हमारे अल्पसंख्यक विभाग के अध्यक्ष को रात के अंधेरे में उठाया। पहले फर्जी आरोपों को लेकर हमारे प्रदेश अध्यक्ष को चार हफ़्तों के लिए कारागार में रखा। ये पुलिसिया कार्रवाई दमनकारी व आलोकतांत्रिक है। कांग्रेस पार्टी के सिपाही पुलिस की लाठियों व फर्जी मुकदमों से नहीं डरने वाले नहीं हैं। "

लल्लू कहे हर मामले पर सरकार के विरूद्ध मोर्चा खोलेगी कांग्रेस उधर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने भी सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने बोला कि सरकार विपक्ष की आवाज़ दबाकर लोकतंत्र की मर्डर कर रही है। योगी सरकार झूठे आरोप लगाकर कांग्रेस पार्टी नेताओं को कारागार भेज रही है। फर्जी आरोप में कांग्रेस पार्टी अल्पसंख्यक मोर्चे के प्रदेश अध्यक्ष की गिरफ्तारी की गई। कांग्रेस पार्टी लाठी खाने या कारागार जाने से नहीं डरती। कांग्रेस पार्टी जनता से जुड़े हर एक मामले पर सरकार के विरूद्ध मोर्चा खोलेगी।

ये है मामला

शाहनवाज आलम को सोमवार रात 8 बजे उनके निवास से हिरासत में लिया गया, जो कालिदास मार्ग स्थित मुख्यमंत्री हाउस के बिल्कुल पास है। शाहनवाज़ की गिरफ्तारी तब हुई जब वे कांग्रेस पार्टी मुख्यालय से अपने निवास पहुंचे ही थे। हज़रतगंज पुलिस ने 19 दिसंबर 2019 को लखनऊ में सीएए (CAA) प्रोटेस्ट के दौरान हुई हिंसा के मुद्दे में शाहनवाज को अरेस्ट किया है।  लखनऊ सेंट्रल के डीसीपी दिनेश सिंह ने बताया कि शाहनवाज़ की किरदार इस मुद्दे में पहले ही सामने आई थी, लेकिन इस मुद्दे में जब पुलिस ने बहुत ज्यादा साक्ष्य जुटा लिए तब गिरफ्तारी की गई है।