अब उनसे ही कराया गया पूजन, कभी सुनील गावस्कर ने कानपुर स्टेडियम में की थी लिफ्ट की मांग

अब उनसे ही कराया गया पूजन, कभी सुनील गावस्कर ने कानपुर स्टेडियम में की थी लिफ्ट की मांग

यहां के ग्रीन पार्क स्टेडियम के मीडिया सेंटर में लिफ्ट का सपना अब सच होने जा रहा है। लिफ्ट नहीं होने की वजह से आने-जाने में दिक्कत बयां करने वाले लिटिल मास्टर सुनील गावस्कर ने ही रविवार को टेस्ट मैच के चौथे दिन लिफ्ट के लिए पूजन किया। 72 लाख रुपये की लागत से लिफ्ट लगाने की योजना है। आगामी आइपीएल मुकाबलों में कमेंटेटर मीडिया सेंटर में जाने के लिए लिफ्ट का उपयोग करेंगे।

मालूम हो कि ग्रीन पार्क स्टेडियम में वर्ष 2016 में खेले गए भारत और न्यूजीलैंड टेस्ट मैच के दौरान कमेंट्री करते हुए गावस्कर ने मीडिया सेंटर में लिफ्ट नहीं होने की बात कही थी। जिसके बाद ऐतिहासिक 500वें टेस्ट मैच में मौजूद तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने मीडिया सेंटर में लिफ्ट लगाने की घोषणा की थी। हालांकि, सरकार जाने के बाद यह अधूरी रह गई। इसके बाद कानपुर के मंडलायुक्त डा. राजशेखर ने स्मार्ट सिटी द्वारा इस कार्य को पूरा कराए जाने की योजना मैच से पहले बनाई थी जिसका पूजन गावस्कर से कराया गया।

कानपुर मेरी ससुराल, इसलिए ज्यादा खुशी :

लिफ्ट के पूजन में पहुंचे भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और मौजूदा क्रिकेट कमेंटेटर सुनील गावस्कर ने कहा कि काफी समय से कमेंटेटर ग्रीन पार्क में लिफ्ट की मांग कर रहे थे। इसके पूरे होने से खुशी महसूस हो रही है। कानपुर मेरी ससुराल है, इसलिए मुझे यहां लिफ्ट लगने की और ज्यादा खुशी है। आगामी दिनों में अंतरराष्ट्रीय मुकाबलों में लिफ्ट से स्टेडियम की शोभा और भी बढ़ जाएगी।

कानपुर के इस स्टेडियम में लिफ्ट की जरूरत इसलिए भी थी, क्योंकि मैच के दौरान कई कमेंटेटर ऐसे होते हैं, जो उम्रदराज होते हैं और ऐसे में उनको ऊपर से नीचे और नीचे से ऊपर जाने में दिक्कत होती है। इसी का हल अब निकाला गया है और मीडिया सेंटर में लिफ्ट लगाई जा रही है, जिसका काम जल्द पूरा हो जाएगा।


गोलकीपर सविता मिली सकती है कप्तानी, चीन को मिला पेनाल्टी शूटआउट

गोलकीपर सविता मिली  सकती है कप्तानी,  चीन को मिला  पेनाल्टी शूटआउट

विस्तार अनुभवी गोलकीपर सविता पूनिया मस्कट में 21 से 28 जनवरी तक होने वाले महिला एशिया कप हॉकी टूर्नामेंट में भारत की 18 सदस्यीय टीम की अगुवाई करेंगी। अनुभवी दीप ग्रेस एक्का को उप कप्तान नियुक्त किया गया है।  '


हॉकी इंडिया की ओर से बुधवार को घोषित 18 सदस्यीय टीम में 16 टोक्यो ओलंपिक में भाग लेने वाली खिलाड़ी शामिल हैं। नियमित कप्तान रानी रामपाल बेंगलुरु में चोट से उबर रही हैं। इसलिए उन्हें टीम में शामिल नहीं किया गया है। भारत को जापान, मलयेशिया और सिंगापुर के साथ पूल ए में रखा गया है। 

भारतीय टीम अपने खिताब के बचाव का अभियान टूर्नामेंट के पहले दिन मलयेशिया के खिलाफ करेगी। प्रतियोगिता में शीर्ष चार में रहने वाली टीमें स्पेन और नीदरलैंड में होने वाले विश्व कप 2022 के लिए क्वालिफाई करेंगी।

21 से 28 जनवरी तक मस्कट में खेला जाएगा महिलाओं का यह टूर्नामेंट। 18 सदस्यीय टीम में चोट के चलते रानी को नहीं किया गया शामिल। 21 को मलयेशिया के खिलाफ अभियान का आगाज करेगी भारतीय टीम। दो बार भारतीय टीम ने अब (2004, 2017) तक जीती है ट्रॉफी। 2017 में हुए पिछले संस्करण में भारत ने चीन को पेनाल्टी शूटआउट में 5-4 से हराकर जीता था खिताब।

टीम 
गोलकीपर: सविता पूनिया (कप्तान), रजनी एतिमारपू। 
डिफेंडर: दीप ग्रेस एक्का (उप कप्तान), गुरजीत कौर, निक्की प्रधान, उदिता। 
मिडफील्डर: निशा, सुशीला चानू, मोनिका, नेहा, सलीमा टेटे, ज्योति, नवजोत कौर। 
फॉरवर्ड: नवनीत कौर, लालरेम्सियामी, वंदना कटारिया, मारियाना कुजूर, शर्मिला देवी।

भारत का कार्यक्रम
vs मलयेशिया 21 जनवरी
vs जापान 23 जनवरी
vs सिंगापुर 24 जनवरी
सेमीफाइनल 26 जनवरी
फाइनल 28 जनवरी