भारतीय क्रिकेटर्स को मारने के लिए बल्ला ले आया था ये बांग्लादेशी खिलाड़ी,आईसीसी करेगी कड़ी कार्रवाई

भारतीय क्रिकेटर्स को मारने के लिए बल्ला ले आया था ये बांग्लादेशी खिलाड़ी,आईसीसी करेगी कड़ी कार्रवाई

नई दिल्ली। क्रिकेट (Cricket) को भद्रजनों का खेल बोला जाता है। हम क्रिकेट के मैदान पर अक्सर खेल भावना की मिसाल देखते रहे हैं। मगर अंडर-19 वर्ल्ड कप के फाइनल (Under 19 Cricket World Cup Final) में भारतीय टीम (Indian Team) को तीन विकेट से हराने के बाद पहली बार वर्ल्ड चैंपियन बनने वाले बांग्लादेश (Bangladesh) के खिलाड़ियों ने मैच के बाद खेल भावना को तार-तार कर दिया। बांग्लादेशी खिलाड़ियों ने न केवल भारतीय क्रिकेटर्स के साथ धक्का-मुक्की की, बल्कि उन्हें गालियां भी दीं। यहां तक कि बैट व स्टंप लेकर भारतीय खिलाड़ियों की ओर आक्रामक ढंग से आगे बढ़े। ये सारा वाकया मैदान के बीचो-बीच पिच पर मैदानी अंपायरों के सामने हुआ।

ये हुआ था मैच के बाद
जैसे ही बांग्लादेश (Bangladesh) ने जीत हासिल की, सभी खिलाड़ी जश्न मनाने के लिए भागकर पिच पर पहुंच गए। मगर इनमें से कुछ खिलाड़ी भारतीय क्रिकेटर्स (Indian Cricketers) पर आपत्तिजनक कमेंट करने लगे। भारतीय खिलाड़ियों ने इस पर ऐतराज जताया, जिसके बाद बांग्लादेश के खिलाड़ी व आक्रामक हो गए। इससे मैदान पर बेहद ही गंभीर स्थिति उत्पन्न हो गई। बांग्लादेशी खिलाड़ी भारतीय क्रिकेटर्स से धक्का-मुक्की करने लगे व उन्हें गालियां दीं। यहां तक कि कुछ खिलाड़ी तो बल्ला व स्टंप लेकर भारतीय क्रिकेटरों की ओर बेहद आक्रामक ढंग से बढ़े। इस दौरान टीम इंडिया के कोच पारस महाम्ब्रे भारतीय खिलाड़ियों को शांत कराकर अलग ले जाते दिखे।

भारतीय कैप्टन प्रियम गर्ग बोले, व्यवहार बहुत गंदा था
भारतीय कैप्टन प्रियम गर्ग ने बोला कि हम सहज थे। हमें लगता है कि हार-जीत खेल का भाग है। कई बार आप जीतते हैं तो कई बार पराजय का सामना करना पड़ता है। मगर बांग्लादेश के खिलाड़ियों का व्यवहार गंदा था। मुझे लगता है कि ऐसा नहीं होना चाहिए था।

मैच के दौरान भी बांग्लादेश के खिलाड़ी कुछ ज्यादा ही आक्रामकता दिखा रहे थे व हर गेंद के बाद भारतीय बल्लेबाज को कुछ ना कुछ लगातार कह रहे थे। बांग्लादेश के जीत के करीब पहुंचने के बाद भी खिलाड़ी कैमरे के सामने टिप्पणी करते देखे गए।

बांग्लादेशी कैप्टन अकबर अली बोले-माफी मांगता हूं
वहीं बांग्लादेशी कैप्टन अकबर अली ने बोला कि हमारे कुछ गेंदबाज ज्यादा भावुक हो गए थे व उत्साह में थे। मैच के बाद जो कुछ भी हुआ, वो दुर्भाग्यपूर्ण है। ऐसा नहीं होना चाहिए था। मेरी टीम के खिलाड़ियों से गलती हुई व इसके लिए मैं माफी मांगता हूं। ऐसा किसी भी स्तर पर कभी भी नहीं होना चाहिए। मैं हिंदुस्तान को शुभकामना देना चाहता हूं।

भारतीय टीम मैनेजर ने कहा-आईसीसी कड़ी कार्रवाई करेगी
वहीं इस बारे में हिंदुस्तान के टीम मैनेजर (Indian Team Manager) अनिल पटेल (Anil Patel) ने बोला कि हमें घटना की साफ तस्वीर नहीं पता है। हालांकि आईसीसी (ICC) ने टीम मैनेजमेंट से बोला है कि मैच रेफरी मैच बाद की फुटेज देखकर बताएंगे कि वास्तव में हुआ क्या था। उन्होंने बोला कि भारतीय टीम मैनेजमेंट मैच अधिकारियों से बात करना चाहता था, लेकिन मैच रेफरी खुद हमारे पास आए व घटना के लिए माफी मांगी। आईसीसी ने इस मुद्दे को बेहद गंभीरता से लिया है व वो इस पर कड़ी कार्रवाई करेगी।