Honda Amaze की बिक्री का आंकड़ा पार करने पर कंपनी ने सेलिब्रेट करने के लिए इसका स्पेशल एडिशन किया लॉन्च

Honda Amaze  की बिक्री का आंकड़ा पार करने पर कंपनी ने  सेलिब्रेट करने के लिए इसका स्पेशल एडिशन किया  लॉन्च

Honda की नयी Amaze ने एक लाख यूनिट बिक्री का आंकड़ा पार कर लिया है, जिसे सेलिब्रेट करने के लिए कंपनी ने इसका स्पेशल एडिशन लॉन्च किया है. होंडा अमेज ऐस एडिशन नाम से लॉन्च की गई नयी कार की मूल्य 7.89 लाख से 9.72 लाख रुपये के बीच में है. स्पेशल एडिशन होंडा अमेज, कार के टॉप मॉडल VX पर आधरित है व पेट्रोल और डीजल, दोनों इंजन ऑप्शन में मार्केट में उतारी गई है.

Image result for  होंडा अमेज ऐस एडिशन ना

होंडा कार्स इंडिया के सीनियर वाइस प्रेजिडेंट व डायरेक्टर (मार्केटिंग व सेल्स) राजेश गोयल ने कहा, 'नई जनरेशन अमेज कंपनी के लिए गेम चेंजर रही. 13 महीने के अंदर ही इसकी एक लाख यूनिट से ज्यादा की बिक्री हुई. वर्ष 2013 में लॉन्च हुई पिछली जनरेशन अमेज की तुलना में नयी अमेज की बिक्री 20 पर्सेंट ज्यादा रही. हम पर विश्वास जताने व लगातार समर्थन के लिए हम अपने ग्राहकों का आभार जाहीर करते हैं, जिसने ब्रैंड को इतनी मजबूती से विकसित करने में सक्षम बनाया. इस सफलता को सेलिब्रेट करने के लिए हम अमेज के स्पेशल एडिशन (ऐस एडिशन) को स्पोर्टी व प्रीमियम लुक में लेकर आए हैं.' बता दें कि नयी अमेज मई 2018 में लॉन्च की गई थी.


होंडा अमेज ऐस एडिशन में कुछ खास विशेषता दिए गए हैं. इसमें स्टाइलिश ब्लैक अलॉय वील्ज, स्पोर्टी ब्लैक स्पॉइलर, ऐस एडिशन की ब्रैंडिंग के साथ सीट कवर, फ्रंट रूम लैम्प, ब्लैक डोर वाइजर, डोर एज गार्निश व पीछे की तरफ ऐस एडिशन का बैज दिया गया है. नयी कार तीन कलर- रेड, सिल्वर व वाइट में उपलब्ध है.


पावर
होंडा अमेज में 90ps क्षमता वाला 1.2-लीटर का पेट्रोल इंजन व 100ps क्षमता वाला 1.5-लीटर डीजल इंजन है. दोनों इंजन के साथ मैन्युअल व ऑटोमैटिक गियरबॉक्स का ऑप्शन उपलब्ध है. पेट्रोल इंजन का माइलेज 19.5 किलोमीटर प्रति लीटर व डीजल इंजन का माइलेज 27.4 किलोमीटर प्रति लीटर है.

  • शानदार लुक व जबरदस्त गति के दम पर बेंटली कॉन्टिनेंटल जीटी ने संसार भर में अपनी अलग पहचान बनाई है. करीब तीन करोड़ रुपये की यह शानदार कार अब अपने टैंक लुक की वजह से संसार भर में सुर्खियों में है. जी हां, इस लग्जरी कार को रूस के एक कार लवर ने मॉडिफाई करके टैंक बनाया है, जिसकी वजह से यह चर्चा में है. आइए आपको इस बेंटली कॉन्टिनेंन्टल जीटी टैंक के बारे में बताते हैं

  • कॉन्स्टेंटिन जरुस्की ने अपनी इस लग्जरी कार को टीम के साथ मिलकर मॉडिफाई किया है. इसे 'अल्ट्राटैंक' नाम दिया गया है.

  • कॉन्स्टेंटिन ने बताया कि इसे बनाने के दौरान कई तकनीकी चुनौनियां सामने आईं. इस अल्ट्राटैंक को बनाने में सात महीने का समय लगा.

  • जरुस्की ने बताया कि इस अल्ट्राटैंक के कई ऑफ-रोड टेस्ट किए गए. इसकी ड्राइविंग एक सामान्य कार चलाने की तरह ही है.

  • कॉन्स्टेंटिन जरुस्की का बोलना है कि सेंट पीटर्सबर्ग अथॉरिटी से उनकी वार्ता चल रही है कि इस अल्ट्राटैंक को रोड लीगल (आम सड़कों पर चलाने की अनुमति) बनाया जाए, ताकि वे इसे अपने होमटाउन के आसपास चला सकें.

  • अल्ट्राटैंक के टायर का ऊपरी भाग मेटल की बजाय रबर का है. इस वजह इसे आम सड़कों पर चलाया जा सकता है व पक्की सड़कों को कोई नुकसान भी नहीं होगा.