शिंदे गुट बोला- बीजेपी संग बनाएंगे सरकार

शिंदे गुट बोला- बीजेपी संग बनाएंगे सरकार

 महाराष्ट्र में जारी राजनीतिक घमासान के बीच NCP प्रमुख शरद पवार ने बोला कि MVA ने सीएम उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) को समर्थन देने का निर्णय किया है उन्होंने बोला कि मेरा मानना ​​है यदि एक बार (शिवसेना) विधायक मुंबई लौट आएंगे तो स्थिति बदल जाएगी साथ ही उन्होंने बोला कि सब जानते हैं, कैसे शिवसेना के बागी विधायकों को गुजरात और फिर असम ले जाया गया हमें उनकी सहायता करने वालों का नाम लेने की आवश्यकता नहीं है…असम गवर्नमेंट उनकी सहायता कर रही है मुझे आगे किसी का नाम लेने की आवश्यकता नहीं है

विधानसभा में होगा फैसला

इसके अतिरिक्त उन्होंने बोला कि बहुमत का निर्णय विधानसभा में होगा वे विधायकों को कहे असम में नहीं मुंबई में निर्णय होगा उन्होंने बोला कि फ्लोर टेस्ट में बहुमत पता चला जाएगा पवार ने गवर्नमेंट की प्रशंसा करते हुए यह भी बोला कि उद्धव ठाकरे ने अच्छा काम किया है पवार ने अपने बयान में यह भी साफ कर दिया कि उनके पास सबका आंकड़ा है

इधर शिंदे गुट गवर्नमेंट बनाने को तैयार

गौरतलब है कि गवर्नमेंट बचाने के इस बयान से एकदम इतर शिंदे गुट के नेता भरत गोगवले ने Zee News से बोला कि उनकी गवर्नमेंट बनना तय है उन्होंने डिप्टी स्पीकर से अगल गुट को मान्यता देने की मांग की है साथ ही उन्होंने बोला कि हम 8 से 10 दिन में गवर्नमेंट बना लेंगे इस बीच उन्होंने बोला कि बीजेपी का समर्थन उन्हें ही मिल रहा है 

शिंदे के पाले में है गेंद!

आपको बता दें कि अभी गेंद पूरी तरह से शिंदे पक्ष के ही पाले में है उन्हें बीजेपी और शिवसेना दोनों ही ओर से अच्छे प्रस्ताव दिए जा रहे हैं शिवसेना नेता संजय राउत ने भी बोला कि यदि सभी विधायक चाहेंगे तो वो महा विकास अघाड़ी (MVA) से बाहर निकलने पर विचार कर सकते हैं इसके अतिरिक्त बीजेपी की ओर से भी उन्हें गवर्नमेंट बनाने के लिए समर्थन का ऑफर दिया जा रहा है


उदयपुर हत्याकांड की वजह से पर्यटन उद्योग को बड़ा झटका

उदयपुर हत्याकांड की वजह से पर्यटन उद्योग को बड़ा झटका

राजस्थान (Rajasthan) के उदयपुर (Udaipur) में टूरिज्म इंडस्ट्री (Tourism Industry) से जुड़े लोगों का दावा है कि दर्जी कन्हैया लाल (Tailor Kanhaiya Lal) की मर्डर की वजह से पर्यटन उद्योग को बड़ा झटका लगा है घटना की वजह से उदयपुर आने वाले टूरिस्ट्स ने अगले दो महीनों के लिए होटलों में आधे से अधिक बुकिंग रद्द कर दी हैं उदयपुर में ज्यादातर लोगों के लिए टूरिज्म आजीविका का मुख्य साधन है और इससे जुड़े लोगों को डर है कि इस वारदात से बड़े पैमाने पर उदयपुर में टूरिस्ट्स की आवाजाही प्रभावित हो सकती है सितंबर से प्रारम्भ होने वाले टूरिस्ट सीजन पर इस घटना का नकारात्मक असर पड़ेगा

50 प्रतिशत से अधिक बुकिंग हुईं रद्द

उदयपुर के होटल एसोशिएशन के वरिष्ठ उपाध्यक्ष और कारोही हवेली होटल के मालिक सुदर्शन देव सिंह ने बताया, ‘इस वारदात के बाद लोगों ने एडवांस बुकिंग रद्द करना प्रारम्भ कर दिया जुलाई और अगस्त महीने में मानसून के मौसम के दौरान हफ्ते अंत के लिए मेरे पास अच्छी संख्या में टूरिस्ट्स आने वाले थे लेकिन घटना के बाद अगले 2 महीनों के लिए 50 फीसदी से अधिक बुकिंग पिछले 5-6 दिनों के दौरान रद्द कर दी गई’ उन्होंने बोला कि कोविड-19 वायरस महामारी की वजह से टूरिज्म इंडस्ट्री पहले से प्रभावित था और इस वर्ष अच्छे बिजनेस की आशा थी लेकिन इस घटना ने उदयपुर की छवि को बुरी तरह प्रभावित किया है

शांतिपूर्ण शहर रहा है उदयपुर

जयपुर में राजस्थान एसोसिएशन ऑफ टूर ऑपरेटर्स के सचिव संजय ने कहा, ‘उदयपुर एक बहुत ही शांतिपूर्ण शहर रहा है और ऐसा कोई घृणित क्राइम आज तक नहीं हुआ यह न सिर्फ उदयपुर बल्कि पूरे राजस्थान जहां टूरिज्म एक प्रमुख उद्योग है, के लिए एक झटका है’ उन्होंने कहा, ‘उदयपुर आने वाले कई टूरिस्ट्स ने घटना को देखते हुए अपनी एडवांस बुकिंग को रद्द कर दिया है उदयपुर सुन्दर स्थानों के अतिरिक्त शांतिपूर्ण वातावरण के कारण पर्यटकों का आकर्षण का केंद्र था लेकिन इस घटना से नकारात्मक असर पड़ा है

झीलों की नगरी के नाम से मशहूर है उदयपुर

हरे-भरे स्थानों और पहाड़ियों से घिरा उदयपुर झीलों की नगरी के नाम से मशहूर पर्यटन स्थल है जो अपने शांत वातावरण और झीलों के लिए जाना जाता है इसे राष्ट्र के पर्यटन मानचित्र पर एक विशेष जगह मिला हुआ है यह हस्तशिल्प का भी केंद्र है

उदयपुर आने वाले ज्यादातर टूरिस्ट जगदीश चौक, हाथी पोल क्षेत्र ओर मालदास गली का दौरा करते हैं मालदास गली के पास एक दुकान में मंगलवार को दर्जी कन्हैया लाल की मर्डर हुई थी ज्यादातर हस्तशिल्प, वस्त्र, और आभूषणों की दुकानें इसी क्षेत्र में हैं