Pak के पीएम इमरान खान ने आलोचना से परेशान होकर दुष्कर्मियों को लेकर किया बड़ा ऐलान

Pak के पीएम इमरान खान ने आलोचना से परेशान होकर दुष्कर्मियों को लेकर किया बड़ा ऐलान

इस्लामाबाद. पाक ( Pakistan ) से अल्पसंख्यकों या हिन्दू समुदाय के लोगों की लड़कियों के साथ जबरन शादी व यौन अत्याचार की घटनाएं सामने आती रहती है, जिसको लेकर दुनियाभर में पाक की किरकिरी होती रही है. लेकिन हाल कि दिनों में एक विदेशी महिला के साथ बलात्कार की घटना ने पाक की हिलाकर रख दिया है. पाक के पीएम इमरान खान ( Pakistan पीएम Imran Khan ) की जमकर आलोचना की जा रही है.

ऐसे में लगातार हो रहे आलोचना से परेशान इमरान खान ने दुष्कर्मियों को लेकर एक बड़ा ऐलान कर दिया है. उन्होंने बोला है कि दुष्कर्मियों को चौराहे पर सरेआम फांस दी जानी चाहिए या तो फिर इंजेक्शन देकर नपुंसक ( Chemical Castration ) बना देना चाहिए. इमरान खान ने इस बात का समर्थन किया कि जो भी बलात्कार करे उसे सरेआम फांसी पर लटकाया जाना चाहिए या तो फिर इंजेक्शन देकर उसे नपुंसक बना देना चाहिए, जो कि दूसरों के लिए एक सबक हो.

आपको बता दें कि बीते दिनों कुछ लोगों ने एक फ्रांसीसी मूल की महिला के साथ बच्चों के सामने ही दुष्कर्म किया गया था. इस घटना को लेकर पाक में लगातार विरोध-प्रदर्शन हो रहा है व पीएम इमरान खान के विरूद्ध नारेबाजी करते हुए सरकार की आलोचना कर रहे हैं.

दुष्कर्मियों को नपुंसक बना देना चाहिए: इमरान

पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने बोला कि बलात्कार के आरोपियों को बहुत ही कठोर सजा मिलनी चाहिए. उन्होंने बोला कि सजा ऐसी होनी चाहिए जिससे दूसरों के अंदर भय पैदा हो व दूसरों को लिए एक सबक हो. इमरान ने बोला कि मेरी राय में तो दुष्कर्मियों को सरेआम फांसी पर लटका देना चाहिए या फिर नपुंसक बना देना चाहिए, ताकि लोगों में भय हो व इस तरह की घटनाएं रूके.

उन्होंने बोला कि जिस तरह मर्डर के मुद्दे में फर्स्ट डिग्री, सेकंड डिग्री व थर्ड डिग्री जैसी सजा दी जाती है, अच्छा उसी तरह से बलात्कार के मामलों को भी बांटा जाना चाहिए. फर्स्ट डिग्री वाले बलात्कार के आरोपियों को नपुंसक बना देना चाहिए.

23 वर्ष का आरोपी गिरफ्तार

आपको बता दें कि पीड़िता ने रिपोर्ट दर्ज कराते हुए बताया था कि लाहौर-सियालकोट हाईवे पर उसकी कार बेकार हो गई थी. जिसके बाद वह सहायता के लिए इन्तजार कर रही थी. इसी बीच दो लुटेरे आए व बंदूक के बल पर उसके साथ बलात्कार किया.

जब ये मुद्दा सामने आया तो देखते ही देखते सारे पाक में बवाल मच गया व लोग सड़कों पर उतर आए. लोग आरोपी को तुरंत अरैस्ट कर सजा देने की मांग करने लगे. लोगों में बढ़ता रोष को देखते हुए हरकत में आई पुलिस ने फ्रांसीसी मूल की महिला के साथ बलात्कार के मुद्दे में 23 वर्ष के मुख्य आरोपी शफकत अली को अरैस्ट कर लिया.

आरोपी शफकत ने अपने जुर्म को कबूल भी कर लिया. उन्होंने बताया कि हाईवे किनारे महिला के साथ उसके तीन बच्चों के सामने ही उन्होंने इस क्राइम को अंजाम दिया था. इस घटना को लेकर लाहौर, कराची, इस्लामाबाद, पेशावर व पाक के अन्य कई शहरों में जबरदस्त प्रदर्शन देखने को मिला. प्रदर्शनकारियों ने इमरान सरकार से दोषियों को कठोर सजा व स्त्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने की मांग की.