लॉकडाउन में पाकिस्तान के सरकारी गोदाम से गायब हुआ 5 अरब रुपये का गेहूं

लॉकडाउन में पाकिस्तान के सरकारी गोदाम से गायब हुआ 5 अरब रुपये का गेहूं

कराची: पाकिस्तान के करप्शन रोधी निकाय राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (नैब) ने अपनी एक रिपोर्ट में हैरतअंगेज़ खुलासा करते हुए बताया है कि सिंध प्रांत के सरकारी गोदामों से 5 अरब 35 करोड़ 50 लाख पाकिस्तानी रुपये के मूल्य का 1 लाख 64 हजार 797 मीट्रिक टन गेहूं गायब मिला। पाक के एक न्यूज चैनल की रिपोर्ट के अनुसार नैब ने सिंध के नौ जिलों में 15 अरब 85 करोड़ रुपये के मूल्य के सरकारी गेहूं में हेरफेर व चोरी को पकड़ने के लिए नौ जांचें प्रारम्भ की थी।

जांच के तहत टीमों ने नौ जिलों में सरकारी गोदामों पर रेड मारी। छापे के दौरान पता चला कि सरकारी गोदामों से 5 अरब 35 करोड़ 50 लाख रुपये मूल्य का 1 लाख 64 हजार 797 मीट्रिक टन गेहूं वहां उपस्थित नहीं है। नैब की रिपोर्ट में बोला गया है कि गेहूं गायब होने के मुद्दे में खाद्य विभाग के संबंधित अधिकारियों व कर्मचारियों ने अपनी गलती स्वीकार करते हुए 'प्ली बारगेन' के द्वारा 2 अरब 11 करोड़ 20 लाख रुपये वापस किए हैं।

नैब ने बताया कि जाँच में पता चला कि सिंध के सक्खर, लरकाना व बेनजीराबाद संभागों के नौ जिलों से कराची पहुँचाया गया 74 करोड़ 56 लाख 80 हजार रुपये मूल्य का 22 हजार मीट्रिक टन गेहूं कराची के गोदामों तक आया ही नहीं। करप्शन रोधी निकाय नैब ने बोला कि गेहूं के इस घोटाले व चोरी में खाद्य विभाग के अधिकारी व कई अन्य लोग संलिप्त पाए गए हैं। इनके विरूद्ध चार मुद्दे दर्ज कर लिए गए हैं व केस भी दर्ज किए जाएंगे।