मोबाइल पर ज्यादा समय बिताने से बच्चे हो रहे ओवर डेवलपमेंट का शिकार ; जानिए क्या हैं इससे बचने के तरीके

मोबाइल पर ज्यादा समय बिताने से बच्चे हो रहे ओवर डेवलपमेंट का शिकार ; जानिए क्या हैं इससे बचने के तरीके

आजकल बच्चे क्लास के अलावा असाइनमेंट, रिसर्च और एंटरटेनमेंट के लिए मोबाइल या लैपटॉप का इस्तेमाल करते हैं। इससे उनका स्क्रीन टाइम कहीं ज्यादा बढ़ गया है। बच्चों का मोबाइल के साथ ज्यादा वक्त बिताने से उन पर नेगेटिव असर हो रहा है।

मोबाइल का ज्यादा इस्तेमाल बच्चों की लाइफ स्टाइल में बदलाव ला रहा है जिससे उनमें मोटापा, भूख कम लगना, चिड़चिड़ेपन के अलावा बच्चों के ओवर डेवलपमेंट होने जैसी परेशानियां सामने आ रही हैं। ओवर डेवलपमेंट यानी बच्चे का अपनी उम्र के लिहाज से ज्यादा डेवलप होना। चूंकि बच्चे मोबाइल में कुछ भी देख सकते हैं, इसलिए उम्र के लिहाज से उन्हें जितनी इन्फॉर्मेशन लेनी चाहिए, वो उससे ज्यादा कन्ज्यूम कर रहे हैं।

ज्यादा समय वर्चुअल वर्ल्ड यानी स्क्रीन के सामने बिताने से बच्चे स्पोर्ट्स, फिजिकल एक्टिविटी, लोगों से इंटरैक्ट करने और लाइफ में काम आने वाली कई स्किल्स सीखने में ज्यादा समय नहीं देते, जिससे उनके ओवरऑल डेवेलपमेंट पर असर पड़ता है।


पेट से जुडी समस्याओं में फायदेमंद होता है इस चीज का सेवन

पेट से जुडी समस्याओं में फायदेमंद होता है इस चीज का सेवन

आजकल खट्टी इमली हर किचन में मिलती है। किचन में इमली का अपना विशेष महत्व है। इमली का स्वाद बहुत ही खट्टा मीठा होता है जो हमारे खाने के स्वाद को दोगुना कर देता है। आज तक आपने इमली के इस्तेमाल से कई प्रकार के व्यंजन बनाए होंगे। पर क्या आपको पता है कि इमली हमारी सेहत के लिए भी बहुत फायदेमंद होती है।

इमली खाने के फायदे:

अगर आप रोज़ाना इमली का रस पीते हैं तो इससे कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी से बचाव होता है। इमली में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट मौजूद होते हैं जो कैंसर और किडनी फेलियर की समस्या से बचाते हैं।

इमली में भरपूर मात्रा में विटामिन सी, कैल्शियम, आयरन, फास्फोरस, पोटेशियम, मैग्नीशियम, फाइबर मौजूद होते हैं जो सेहत से जुड़ी कई समस्याओं को दूर करने में सहायक होते हैं।

अगर आपको पेट से जुड़ी समस्याएं रहती हैं तो आधा कप इमली के पेस्ट में शहद और नींबू का रस मिलाएं। अब इसमें थोड़ा सा गर्म पानी डालकर रात भर के लिए छोड़ दें। सुबह उठने पर इसे पी ले।

इमली का सेवन करने से शुगर लेवल कंट्रोल में रहता है। इमली में भरपूर मात्रा में विटामिन्स और मिनरल्स मौजूद होते हैं जो शुगर को कंट्रोल में रखने का काम करते हैं। 

इमली में भरपूर मात्रा में हाइड्रोऑक्साइड एसिड मौजूद होता है जो फैट को कम करने वाले एंजाइम को बढ़ाती है। रोजाना इमली का सेवन करने से वजन आसानी से कम हो जाता है।