अमिताभ बच्चन को बचपन की याद दिला रहा घर

अमिताभ बच्चन को बचपन की याद दिला रहा घर

कोरोनावायरस के प्रकोप के चलते देश में 21 दिन का लॉकडाउन घोषित है. ऐसे में महानायक अमिताभ बच्चन भी घर में वक्त बिता रहे हैं. हालांकि, सोशल मीडिया के जरिए वे अपने फैन्स से जुड़े हुए हैं. गुरुवार को उन्होंने ट्विटर पर अपने घर को लेकर इमोशनल कविता लिखी व बताया कि यह आज उन्हें बचपन की याद दिला रहा है.

अमिताभ ने लिखा है, "थक कर आता था तो सुलाता था घर, आज भी हर मुसीबत से बचाता है घर. बाहर खतरा मंडरा रहा है बचना है हमें, एक जुट कैसे हों ये हमें सिखाता है घर. बचपन गुजरा जो जैसे बहुत पुरानी बात, आज याद बचपन की दिलवाता है घर." बाहर मंडरा रहे खतरे से अमिताभ का आशय कोरोनावायरस से है, जिसके साथ छिड़ी जंग घर में रहकर ही जीती जा सकती है.

टिकटॉक पर अमिताभ का संदेश भी वायरल

अमिताभ ने एक अन्य ट्वीट में यह मैसेज दिया है कि टिकटॉक ने यूनिसेफ को 48 घंटे के लिए अपना टॉप स्पेस दिया है, वह भी बिना किसी शुल्क के. बिग बी के मुताबिक, जब भी कोई टिकटॉक खोलेगा, उसे पहला वीडियो उन्हीं के कोरोनावायरस से जुड़े सदेश का दिखाई देगा, जो उन्होंने यूनिसेफ के लिए बनाया है. अमिताभ ने अपने ट्वीट में यह भी बताया है कि उनके इस वीडियो को सिर्फ आधे घंटे में 5 मिलियन लोगों ने देखा व गुरुवार प्रातः काल 11.23 मिनट तक इस पर 45 मिलियन व्यू आ चुके थे.