रिलायंस इंडस्ट्रीज को मार्च तिमाही में दोगुना से ज्यादा मुनाफा, कंपनी की आमदनी भी काफी बढ़ी

रिलायंस इंडस्ट्रीज को मार्च तिमाही में दोगुना से ज्यादा मुनाफा, कंपनी की आमदनी भी काफी बढ़ी

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने पिछले वित्त वर्ष की आखिरी तिमाही में शुद्ध लाभ में दोगुना से ज्यादा वृद्धि की सूचना दी है। कंपनी ने शेयर बाजारों को बताया है कि इस साल जनवरी से मार्च तिमाही के दौरान कंपनी को 13,227 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ। पिछले साल जनवरी से मार्च तिमाही में कंपनी को 6,348 करोड़ रुपये का शुद्ध मुनाफा हुआ था। पेट्रोकेमिकल और कंज्यूमर बिजनेस में सुधार होने से कंपनी के शुद्ध लाभ में यह बढ़ोत्तरी देखने को मिली है। आलोच्य तिमाही में कंपनी को 1,72,095 करोड़ रुपये की कुल आमदनी हुई। वित्त वर्ष 2019-20 की चौथी तिमाही में कंपनी को 1,51,461 करोड़ रुपये की आमदनी हुई थी।

कंपनी के तिमाही और वार्षिक नतीजों पर RIL के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर मुकेश डी. अंबानी ने कहा, ''भारत के लिए यह वक्त असाधारण रूप से चुनौतीपर्ण है। हमारी तात्कालिक प्राथमिकता हमारे देश और समुदाय को कोविड संकट से उबारने में मदद करना है। महामारी से देश के मुकाबले को मजबूती देने के लिए हमने अपने सबसे बेहतर संसाधनों को काम पर लगाया है। जामनगर स्थिति हमारी फैसिलिटीज जीवन बचाने वाले मेडिकल ग्रेड ऑक्सीजन का उत्पादन कर रही हैं, जो इस वक्त कई राज्यों के लिए जरूरी है। हमने मेडिकल ऑक्सीजन को जल्द एक जगह से दूसरे जगह ले जाने के लिए देश की क्षमता को मजबूत करने के लिए तात्कालिक कदम उठाए हैं।'' 


Reliance Retail बनी दुनिया में दूसरी सबसे तेज ग्रोथ करने वाली खुदरा कंपनी

Reliance Retail बनी दुनिया में दूसरी सबसे तेज ग्रोथ करने वाली खुदरा कंपनी

अरबपति मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस रिटेल लिमिटेड (Reliance Retail Ltd) ने साल 2021 में विश्व की दूसरी सबसे तेज गति से ग्रोथ करने वाली खुदरा कंपनी का दर्जा प्राप्त किया है। डेलॉय की सालाना ग्लोबल रिटेल पावर हाउसेज रैंकिंग में रिलायंस रिटेल इस साल 53वें स्थान पर रही है। इससे पहले यह 56वें स्थान पर थी। इस तरह कंपनी ने इस साल अपनी स्थिति में 3 पायदान का सुधार किया है। रिलायंस रिटेल तेजी से ग्रोथ करने के मामले में पिछले वर्ष दुनिया में शीर्ष पर रही थी।

डेलॉय की खुदरा विक्रेताओं की इस सूची में अमेरिका की वालमार्ट इंक टॉप पर रही है। इस तरह वालमार्ट ने दुनिया के शीर्ष खुदरा विक्रेता के रूप में अपनी स्थिति को बरकरार रखा है। इसके अलावा अमेजन डॉट काम इस सूची में दूसरे स्थान पर रही है। इसके बाद अमेरिका की कोस्टको व्होलसेल कापोर्रेशन तीसरे स्थान पर रही है और जर्मनी का स्वार्ज ग्रुप चौथे स्थान पर रहा है।

इस सूची की टॉप-10 कंपनियों में से सात केवल अमेरिका की कंपनियां हैं। टॉप-10 कंपनियों में पांचवां स्थान क्रोगर कंपनी को, छठा स्थान वालग्रींस बूट्स एलायंस को, आठवां स्थान जर्मनी की अल्दी इंकॉफ जीएमबीएच एण्ड कंपनी ओएचीजी को, नौवां स्थान सीवीएस हेल्थ कॉर्पोरेशन को और दसवां स्थान ब्रिटेन की टेस्को पीएलसी को मिला है।

दुनिया की बड़ी खुदरा विक्रेता कंपनियों की इस सूची में रिलायंस रिटेल एक मात्र भारतीय कंपनी है। ग्लोबल पावर्स आफ रिटेलिंग और वर्ल्डस् फास्टेस्ट रिटेलर्स में लगातार चौथी बार रिलायंस का नाम आया है।


डेलॉय ने रिपोर्ट में कहा, ‘रिलायंस रिटेल, तेजी से बढ़ने वाली 50 कंपनियों में पिछले साल सबसे शीर्ष पर थी, लेकिन इस साल यह दूसरे स्थान पर रही है। रिलायंस रिटेल ने साल दर साल 41.8 फीसद की ग्रोथ प्राप्त की है। कंपनी ने 2019- 20 की समाप्ति पर उपभोक्ता इलेक्ट्रानिक्स, फैशन एवं जीवनशैली और किराना खुदरा श्रृंखला स्टोर में 13.1 फीसद ग्रोथ प्राप्त की।’


हाथी ने खेला क्रिकेट, बैटिंग देखकर इंप्रेस हुए सहवाग       Lewis Hamilton ने जीती Spanish Grand Prix, क्रिकेटर सूर्यकुमार यादव बोले...       Rahul Tewatia ने सरेआम किसे I Love You बोलकर किया किस?       Ind vs Eng: हिंदुस्तान और इंग्लैंड में कौन है टेस्ट सीरीज जीतने का दावेदार?       टोक्यो में पदक का सूखा समाप्त करने का मौका : मनप्रीत       Virat Kohli ने कही केवल एक बात और स्टार बन गए Harshal Patel       Virat Kohli के बाद Ishant Sharma ने भी लगवाया पहला टीका       Chetan Sakariya के पिता के मृत्यु की समाचार सुनकर दुखी हुए Mustafizur Rahman       Babar Azam और Alyssa Healy ने मारी बाजी, जीता ये बड़ा खिताब       कोविड-19 के चलते खेल जगत से बुरी खबर, इस खिलाड़ी ने अपनी मां को खोया       यूपी में पिछले 24 घंटे में सामने आए कोविड-19 के 23333 नए मामले       सीएम योगी ने संबंधित विभागों को कार्यों में और तेजी लाने के दिए निर्देश       देश के इन राज्यों में आज से लॉकडाउन, जानिए क्या-क्या रहेगा बंद       खुशखबरी: उत्तर प्रदेश में कोविड-19 संक्रमण के कम हुए 3514 केस       11 और जिलों में 18 से 44 वर्ष के लोगों के लिए प्रारम्भ हुआ कोविड टीकाकारण, जानें       यूपी के इन 12 जिलों में कोविड-19 वायरस के आधे मरीज       यूपी के शराब कारोबारियों ने कहा कि हम हो जाएंगे बर्बाद       मायावती ने कहा कि गांव में कोविड-19 लोग दहशत में, रोकथाम के लिए युद्ध स्तर पर काम करें सरकार       योगी सरकार 60 लाख गरीब बुजुर्गों के खातों में भेजेगी पेंशन, 1800 करोड़ रुपये की किश्त जारी       कोविड-19 वायरस टीकाकरण में तेजी, 11 और जिलों में वैक्सीनेशन शुरू