आत्महत्या के बाद अब मर्डर में बदला युवक की मौत का केस

आत्महत्या के बाद अब मर्डर में बदला युवक की मौत का केस

हाल ही में जो क्राइम का मुद्दा सामने आया है वह सभी को दंग कर गया है. इस मुद्दे को गुलरिहा इलाके के टिकरिया गांव का बताया जा रहा है जहाँ संजीव जायसवाल (25) की गोली लगने से मृत्यु के मुद्दे में पुलिस ने शिकायत के आधार पर अब मर्डर का मुद्दा दायर कर लिया है. इस मुद्दे में मृत संजीव के पिता की शिकायत पर पुलिस ने टिकरिया में ननिहाल आई युवती के दो भाइयों मंगेश, सुधीर व अज्ञात पर मर्डर का केस दायर किया है.

वहीं इस मुद्दे की शुरुआती जाँच व हालात जन्य साक्ष्य के आधार पर पुलिस ने तब इसे एकतरफा प्यार में खुदकुशी का मुद्दा बताया था. वहीं बेलीपार के महावीर छपरा चिरिया निवासी राजेश जायसवाल की शिकायत पर दर्ज केस के मुताबिक, '6 मार्च की प्रातः काल उनका बेटा संजीव जायसवाल युवती का फोन आने पर घर से निकल गया था. संजीव उसके ननिहाल टिकरिया गांव पहुंचा तो वहां पहले से घात लगाए बैठे उसके दोनों भाई मंगेश व सुधीर ने एक अन्य साथी की मदद से उसकी कनपटी में गोली मार दी. संजीव की मौके पर ही मृत्यु हो गई थी.'

इस मुद्दे में पुलिस की शुरूआती जाँच में सामने आया था कि बेलीपार इलाके के महावीर छपरा चिरिया निवासी राजेश जायसवाल का बेटा संजीव सूरत में रहकर कढ़ाई का कार्य करता था. वह अपने मौसा की बहन की बेटी से प्यार करता था. पहले मिली समाचार के अनुसार दोनों के बीच पहले वार्ता होती थी, लेकिन घरवालों ने युवती की विवाह घुघली, महराजगंज में तय कर दी. वहीं बीते तीन मार्च को मौसेरी बहन की विवाह में शामिल होने के लिए संजीव सूरत से घर आया तो उसे यह बात पता चली कि 28 मार्च को युवती की सगाई होने वाली है व 6 मार्च को वह युवती के ननिहाल टिकरिया गांव पहुंच गया. उसके बाद युवती भी वहां आई थी लेकिन आकस्मित घर में घुसकर संजीव ने युवती पर गोली चलाई. उसके बाद वह बच गई तो संजीव ने खुद को गोली मार ली. पहले इस मुद्दे को आत्महत्या का माना गया था लेकिन अब लड़के के पिता ने मर्डर की शिकायत दी है व गुलरिहा इंस्पेक्टर मनोज राय ने बोला कि 'शिकायत मिलने के बाद मर्डर का केस दर्ज कर, साक्ष्यों और फोरेंसिक रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई प्रारम्भ कर दी है.'