पुलिस ने 'लवगुरु' को किया गिरफ्तार

पुलिस ने 'लवगुरु' को किया गिरफ्तार

नई दिल्ली: भारतीय मीडिया में 'लवगुरु' ( Love Guru ) के नाम से महशूर आरोपी धवल त्रिवेदी ( Dhawal Trivedi ) को पुलिस ने अरैस्ट कर लिया है. सीबीआई ने धवल पर पांच लाख का इनाम रखा था व पुलिस लंबे समय से उसको पकड़ने की फिराक में थी. मंगलवार को दिल्ली पुलिस की अपराध ब्रांच ( Delhi Police Crime Branch ) ने इंटरस्टेट सेल ( Interstate cell ) के साथ मिलकर आखिरकार धवल दबौच लिया. पुलिस ने धवल को हिमाचल प्रदेश ( Himachal Pradesh ) के सोलन जिले की बद्दी नामक स्थान से हिरासत में लिया है. आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि धवल (50) को यौन उत्पीड़न केस में उम्रकैद की सजा हुई थी. हालांकि बाद में वह परोल पर छोड़ दिया गया. धवल पर कई स्त्रियों व नाबालिग लड़कियों का यौन उत्पीड़न का आरोप है. यही नहीं उसने 9 स्त्रियों को अपने प्रेम जाल में फांस लिया था, जिसके बाद वह उनको अपने साथ भगा ले गया था.

जानकारी के अनुसार धवल त्रिवेदी अगस्त 2018 से ही फरार चल रहा था, पुलिस ने उसको पकड़ने का कई बार कोशिश किया, लेकिन विफल रही. इसके बाद पुलिस ने उस पर पांच लाख का इनाम घोषित कर दिया है. यहां सबसे ज्यादा चौंकाने वाली बात यह है कि धवन को अपने किए पर कोई पछतावा नहीं है. पुलिस पूछताछ में धवल ने बताया कि वह एक किताब लिखने की योजना बना रहा था, जिसका शीर्षक उसने '10 परफेक्ट विमिन इन माय लाइफ.' सोच कर रखा हुआ था. स्त्रियों के साथ यौन उत्पीड़न के मुद्दे में पुलिस ने उस पर पॉक्सो ऐक्ट के तहत केस दर्ज किया था, जिसके चलते उसको आजीवन जेल की सजा हुई थी. परोल मिलने के बाद वह फरार हो गया था.

इसके बाद यह केस मुंबई CBI को सौंपा गया था. परोल से फरार होने के बाद वह नाम व भेष बदल-बदल कर रह रहा था. इस बार उसकी खोज में जुटी पुलिस ने उससे जुड़ी सारी सूचनाएं गोपनीय रखी थी. हाल ही में पुलिस को हिमाचल प्रदेश में उसकी लोकेशन मिली थी, जिसके बाद कार्रवाई करते धवल को अरैस्ट कर लिया गया.