कोरोना के चलते लॉकडाउन में घर से बाहर पैर रखने पर शख्स ने की भाई की हत्या

कोरोना के चलते लॉकडाउन में घर से बाहर पैर रखने पर शख्स ने की भाई की हत्या

कोरोना वायरस के प्रकोप को लेकर रोज तरत-तरह की खबरें आ रही हैं, लेकिन इस महामारी के चलते अपने ही भाई का हत्या करने की मुंबई से आई समाचार चौंकाने वाली है. कोरोना के पीछे महाराष्ट्र का यह अपनी तरह का पहला हत्या है. हमारे सहयोगी हिन्दुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, बुधवार को एक शख्स ने अपने भाई का कत्ल सिर्फ इस वजह से कर दिया क्योंकि लॉकडाउन में रोक के बावजूद वह घर से बाहर निकला था. घटना मुंबई के कांदिवली (ईस्ट) की है.


कोरोना को फैलने से रोकने के लिए 21 दिन का देशव्यापी लॉकडाउन घोषित किया गया है. इस लॉकडाउन में सभी नागरिगों को घर में रहने की हिदायत दी गई है. इसी बीच 28 वर्षीय एक शख्स ने बंद में घर से बाहर निकलने को लेकर अपने 21 वर्षीय भाई के सिर पैन (एक बर्तन) मारकर मर्डर कर दी. बताया जा रहा है कि दोनों भाइयों को बीच बाहर जाने को लेकर झगड़ा हुआ था. आरोपी शख्स की पत्नी भी हिदायत के बावजूद अपने घर से बाहर निकली थी. 

समता नगर पुलिस के अनुसार, मृतक की पहचान दुर्गेश ठाकुर के रूप में हुई है. वहीं हत्यारोपी की पहचान 28 वर्ष के राजेश ठाकुर के रूप में हुई है. दोनों सिद्धीविनायक मैदान के पास पशुपतिनाथ चॉल (कांदिवली ईस्ट) के रहने वाले हैं. यहां राजेश, उसकी पत्नी व उसका छोटा भाई दुर्गेश रहते हैं जबकि उनके माता पिता गांव में रहते हैं.

दुर्गेश पुणे में वेटर का कार्य करता था, लेकिन लॉकडाउन के चलते एक हफ्ते पहले की उसकी जॉब जा चुकी थी. वह पुणे से लौटकर अपने भाई के पास कुछ दिन पहले ही आया था. राजेश पास के ही एक सैलून में कार्य करता है.

घटना के दिन राजेश ने अपनी पत्नी व भाई को बाहर न निकलने के लिए कहा तो इस पर दोनों झगड़ा प्रारम्भ हो गया था. इस राजेश ने बोला वे लोग घरेलू प्रयोग का समान खरीदने जा रहे हैं व 30 मिनट में वापस आ जाएंगे. राजेश ने छोटे भाई को धमकाते हुए बोला कि वह इस दौरान बाहर न निकले. इस तीखी बहज के बाद राजेश व उसकी पत्नी वादे से 20 मिनट देर से पहुंचे. इस दुर्गेश दोनों से झगड़ा करने लगा व उन्हें मारने की धमकी देकर गंदा शब्द कहने लगा.

पुलिस ने बताया कि इस पर राजेश ने पैन उठाकर दुर्गेश के सिर पर मार दिया जिससे उसके सिर पर तेज खून बहने लगा. घटना के बाद दुर्गेश ने दोनों पति-पत्नी को घर से बाहर निकाल दिया व कमरे को बंद कर फांसी लगा ली. घटना की समाचार मिलते ही राजेश व पड़ोसियों ने उसे अस्पताल पहुंचाया जहां डॉक्टरों ने दुग्रेश को मृत घोषित कर दिया.

वहीं एक पुलिस ऑफिसर ने बताया कि दोनों भाइयों में घर से बाहर न निकलने को लेकर झगड़ा हुआ था. लेकिन छोटे भाई ने बात नहीं सुनी इसी वजह इस घटना को अंजाम दिया गया. आरोपी भाई के विरूद्ध मर्डर का मुद्दा दर्ज कर उसे अरैस्ट कर लिया गया है.