Jammu Kashmir: आतंकवादियों के निशाने पर Indian Army

Jammu Kashmir: आतंकवादियों के निशाने पर Indian Army

नई दिल्ली: पूरी संसार इन दिनों कोरोना वायरस (coronavirus) से जूझ रहा है. वहीं, दूसरी तरफ हिंदुस्तान में आतंकवादी (Terrorist) गतिविधि थमने का नाम नहीं ले रहा है. हालांकि, इंडियन आर्मी (Indian Army) भी आतंकवादियों को मुंहतोड़ जवाब दे रही है. जम्मू और कश्मीर (Jammu Kashmir) में एक बार फिर भारतीय सुरक्षाबलों ने आतंकवादियों के मंसूबे को नाकाम कर दिया है. बताया जा रहा है कि बारामूला ( Baramulla) में आतंकवादियों ने IED से सुरक्षबलों पर हमले की योजना बनाई थी. लेकिन, समय रहते ही इस मकसद को नाकाम कर दिया गया. वहीं, IED को भी नष्ट कर दिया गया है. फिलहाल, सारे इलाके में सर्च ऑपरेशन ( Search Operation ) जारी है.

आतंकी साजिश नाकाम

जानकारी के मुताबिक, घाटी के बारमूला-श्रीनगर हाइवे ( Baramulla Srinagar Highway ) पर आतंकवादियों ने इंडियन आर्मी ( Indian Army ) पर हमला करने के लिए IED लगाया था. बताया जा रहा है कि सुरक्षाबलों के काफिले को नुकसान पहुंचाने की तैयारी थी. लेकिन, सुरक्षाबलों ने समय रहते इसे नष्ट कर दिया. इतना ही नहीं इलाके में सुरक्षा भी बढ़ा दी गई व कुछ दूर तक वाहनों की आवाजाही भी बंद कर दी गई. इलाके में बहुत ज्यादा संख्या में सुरक्षा बढ़ा दी गई है. साथ ही यह भी पता लगाया जा रहा है कि आतंकवादियों ने कहीं व IED तो नहीं लगाया है. रिपोर्ट के अनुसार, यह IED बारामूला जिले के टप्पन इलाके ( Tuppen ) में लगाया गया था. बताया जा रहा है कि यहां हर दिन प्रातः काल सेना का काफिला गुजरता है. लिहाजा, आतंकवादियों ने बडी़ साजिश को अंजाम देने की तैयारी की थी.

घाटी में आतंकवादियों का सफाया

इधर, IED का पता लगते ही हाइवे (Highway) को बंद कर दिया गया । वाहनों की आवाजाही पूरी तरह से बंद कर दी गई है. तुरंत बम स्क्वायड टीम ( Bomb Squad ) को बुलाया गया. इसके बाद कुछ दूर ले जाकर कड़ी मशक्कत के बाद IED को नष्ट कर दिया गया. IED को नष्ट करते वक्त धमाका बहुत ज्यादा जोरादार हुआ था. इलाके में तनाव का माहौल भी कायम हो गया. लेकिन, गनीमत ये रही कि समय रहते IED को ढूंढ लिया गया नहीं तो बड़ा एक्सीडेंट होने कि सम्भावना था. इधर, खुफिया जानकारी के बाद सेना (Indain Army Alert) को भी अलर्ट कर दिया गया. एक तो पांच अगस्त को आर्टिकल 370 (Article 370) हटने की बरसी पूरी हो रही है. वहीं, दूसरी ओर 15 अगस्त भी आ रहा है. लिहाजा, चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है. वहीं, श्रीनगर (Srinagar) में दो दिनों का कर्फ्यू (Curfew) भी लगाया गया है. यहां आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि पिछले कुछ समय आतंकवादी लगातार वारदात को अंजाम देने की योजना बना रहे हैं. लेकिन, सुरक्षाबलों के द्वारा सभी नापका मंसूबों को समाप्त कर दिया जा रहा है. महज लॉकडाउन (India Lockdown) में 100 से ज्यादा आतंकवादियों का घाटी में सफाया हो चुका है.