यहाँ नवदम्पति की सुहागरात देखने आता है पूरा गांव

यहाँ नवदम्पति की सुहागरात देखने आता है पूरा गांव

अक्सर शादियों को लेकर हर जगह कई रस्में और परम्पराएं निभाई जाती है। आजकल भी कई परंपराए है जो सदियों से निभाई जा रही है। हालंकि इनमें कई सारे कार्य अच्छे भी होते है। पहले के जमाने में इस तरह की परंपराओं को शादी के बाद दुल्हा दुल्हन को एक दूसरे के साथ घुलमिल जाने के लिए निभाया जाता था। लेकिन आज इनका स्वरूप भी बदल चुका है। 

सुहागरात देखने आता है पूरा गांव

आज हम बात कर रहे है कंजरभाट समुदाय की जहां पर शादी के बाद सुहागरात पर पूरा गांव कमरे के बाहर बैठता है। ये समुदाय पिछले 20 सालों से इसी परंपरा का निर्वहन कर रहा है। इस परंपरा का निर्वहन करने के पीछे एक वजह बताई गई है।यहां पर इसको उद्देश्य सिर्फ महिलाओं के चरित्र को जानना है। 


सरपंच खोलता है राज

यहां पर शुहागरात पर दूल्हे को कमरे के अंदर जाने से पहले सफेद चादर दी जाती है और नवविवाहिता को इसी चादर पर सोना पड़ता है। जिसके बाद सुबह होने पर गांव का सरंपच आकर देखता है कि चादर पर खून के दाग है या नहीं। अगर चादर पर दाग होते है तो उसको पवित्र माना जाता है अगर दाग नहीं मिलता है तो दूल्हन को अपवित्र मानी जाती है।


एक कप चाय के यहां चुकाने होते हैं 1000 रूपये, क्यों खास है यह चाय जानकर चौंक जाएंगे

एक कप चाय के यहां चुकाने होते हैं 1000 रूपये, क्यों खास है यह चाय जानकर चौंक जाएंगे

चाय एक ऐसा पेय पदार्थ है, जो हमारे दिन की शुरुआत करता है। ज्यादातर लोग सुबह और शाम को चाय पीते हैं। जबकि कामकाजी लोगों के चाय पीने का कोई टाइम नहीं होता। ऐसे लोगों को तो दिनभर में 10 बार भी चाय मिल जाएगी तब भी वे मना नहीं करेंगे। इसके अलावा कुछ लोगों को तो चाय की लत लग जाती है और जब उन्हें चाय न मिले तो वे चिड़चिड़ाने लगते हैं। अगर आप भी चाय के शौकीन हैं तो आज हम आपको एक ऐसी चाय के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसकी कीमत जानने के बाद आपके होश उड़ जाएंगे। जी हां, आमतौर पर हमें एक कप चाय के लिए 5 रुपये से 25 रुपये तक खर्च करने होते हैं। लेकिन अभी हम आपको जिस चाय के बारे में बताने जा रहे हैं, उसकी कीमत 1000 रुपये है।

पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता के रहने वाले पार्थ प्रतिम गांगुली मुकुंदपुर में चाय की दुकान चलाते हैं। पार्थ की दुकान पर 12 रुपये से लेकर 1000 रुपये तक की चाय मिलती है। पार्थ की चाय दुकान का नाम निर्जश है और उनकी ये दुकान पूरे कोलकाता में प्रसिद्ध है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कोलकाता घूमने आने वाले लोग निर्जश की चाय पीने जरूर आते हैं। हैरानी की बात ये है कि पार्थ की दुकान किसी बड़े शॉपिंग कॉम्प्लेक्स में नहीं बल्कि सड़क के किनारे बाकी चाय दुकानों की तरह ही है।

पार्थ की दुकान पर 100 अलग-अलग किस्म की चाय मिलती हैं। इनमें सिल्वर नीडल वाइट टी, लैवेंडर टी, हिबिस्कस टी, वाइन टी, तुलसी जिंजर टी, ब्लू टिश्यन टी, तीस्ता वैली टी, मकईबारी टी, रूबियोस टी और ओक्टी टी आदि शामिल हैं। पार्थ की दुकान पर मिलने वाली Bo-Lay Tea की कीमत 1 हजार रुपये है। दरअसल, इस चाय में डाली जाने वाली Bo Lay चाय की कीमत 3 लाख रुपये प्रति किलो है। यही वजह है कि इसके कप चाय की कीमत 1 हजार रुपये है। पार्थ ने साल 2014 में चाय की दुकान खोली थी। इससे पहले वे नौकरी करते थे।


हाथी ने खेला क्रिकेट, बैटिंग देखकर इंप्रेस हुए सहवाग       Lewis Hamilton ने जीती Spanish Grand Prix, क्रिकेटर सूर्यकुमार यादव बोले...       Rahul Tewatia ने सरेआम किसे I Love You बोलकर किया किस?       Ind vs Eng: हिंदुस्तान और इंग्लैंड में कौन है टेस्ट सीरीज जीतने का दावेदार?       टोक्यो में पदक का सूखा समाप्त करने का मौका : मनप्रीत       Virat Kohli ने कही केवल एक बात और स्टार बन गए Harshal Patel       Virat Kohli के बाद Ishant Sharma ने भी लगवाया पहला टीका       Chetan Sakariya के पिता के मृत्यु की समाचार सुनकर दुखी हुए Mustafizur Rahman       Babar Azam और Alyssa Healy ने मारी बाजी, जीता ये बड़ा खिताब       कोविड-19 के चलते खेल जगत से बुरी खबर, इस खिलाड़ी ने अपनी मां को खोया       यूपी में पिछले 24 घंटे में सामने आए कोविड-19 के 23333 नए मामले       सीएम योगी ने संबंधित विभागों को कार्यों में और तेजी लाने के दिए निर्देश       देश के इन राज्यों में आज से लॉकडाउन, जानिए क्या-क्या रहेगा बंद       खुशखबरी: उत्तर प्रदेश में कोविड-19 संक्रमण के कम हुए 3514 केस       11 और जिलों में 18 से 44 वर्ष के लोगों के लिए प्रारम्भ हुआ कोविड टीकाकारण, जानें       यूपी के इन 12 जिलों में कोविड-19 वायरस के आधे मरीज       यूपी के शराब कारोबारियों ने कहा कि हम हो जाएंगे बर्बाद       मायावती ने कहा कि गांव में कोविड-19 लोग दहशत में, रोकथाम के लिए युद्ध स्तर पर काम करें सरकार       योगी सरकार 60 लाख गरीब बुजुर्गों के खातों में भेजेगी पेंशन, 1800 करोड़ रुपये की किश्त जारी       कोविड-19 वायरस टीकाकरण में तेजी, 11 और जिलों में वैक्सीनेशन शुरू