हल्‍द्वनी से लापता कारोबारी का शव नैनीताल-हल्द्वानी हाईवे से सटे जंगल में मिला

हल्‍द्वनी से लापता कारोबारी का शव नैनीताल-हल्द्वानी हाईवे से सटे जंगल में मिला

नैनीताल-हल्द्वानी राष्ट्रीय राजमार्ग पर दोगांव और भुजियाघाट के बीच जंगल से एक सड़ा गला शव बरामद किया गया है। शव करीब एक माह पहले एक हल्द्वानी से लापता व्यापारी पवन कन्याल का बताया जा रहा है। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर जांच के लिए फॉरेंसिक टीम को सौंप दिया है। वहीं पवन के स्वजनों ने उसकी शिनाख्त कर ली है। मौके पर आला अधिकारी पहुंच गए हैं।

जानकारी के अनुसार नैनीताल-हल्द्वानी मार्ग के ज्योलीकोट क्षेत्र में शुक्रवार को महिलाएं घास लेने जंगल गई थीं। इसी बीच टूटा पहाड़ के ठीक नीचे गधेरे में महिलाओं ने गूल में पड़ा हुआ एक पुरुष का शव देखा। इस बीच उन्होंने अन्य महिलाओं को इसकी सूचना दी। जिसके बाद ग्रामीण मौके पर जुट गए। सड़े-गले अवस्था में देखे गए शव की जानकारी तत्काल ज्योलीकोट पुलिस को दी गई। सूचना के बाद चौकी इंचार्ज जोगासिंह टीम के साथ मौके पर पहुंचे। जहां पुलिस ने शव का कब्जे में लिया। चौकी प्रभारी जोगासिंह ने बताया कि पुलिस टीम शव की शिनाख्त में जुट गई। शव पूरी तरह सड़-गल चुका है। जांच के लिए फॉरेंसिक टीम को सूचना दी गई। वहीं पवन के स्वजनों को भी बुलाया गया। उन्होंने शव की शिनाख्त पवन के रूप में की है।


एक माह पहले लापता हुआ था कारोबारी

एक माह पले हल्द्वानी के सुभाषनगर निवासी कारोबारी पवन कन्याल लापता हो गया था। पुलिस ने उसे ढूंढने की बहुत कोशिश की लेकिन उसका कोई सुराग नहीं मिला। शुक्रवार को भेड़ियाखान में सड़ागला शव गूल में मिला तो हलचल मच गई। पवन के स्वजनों ने मौके पर पहुंचकर शव की शिनाख्त की।


उत्तराखंड के दस जिलों में कोरोना का नया मामला नहीं, अब 163 मामले हैं सक्र‍िय

उत्तराखंड के दस जिलों में कोरोना का नया मामला नहीं, अब 163 मामले हैं सक्र‍िय

उत्तराखंड में रविवार को कोरोना के छह नए मामले मिले, वहीं नौ मरीज स्वस्थ हुए हैं। दून मेडिकल कालेज चिकित्सालय में भर्ती कोरोना संक्रमित एक मरीज की मौत हुई है। फिलवक्त राज्य में कोरोना के 163 सक्रिय मामले हैं। उत्तरकाशी, टिहरी व बागेश्वर में कोरोना का कोई सक्रिय मामला नहीं है, जबकि देहरादून में सबसे अधिक 103 सक्रिय मरीज हैं। सात जिलों में कोरोना के सक्रिय मामले दस से कम हैं।


स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, निजी व सरकारी लैब से 9877 सैंपल की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई, इनमें 9871 सैंपल की रिपोर्ट निगेटिव आई है। देहरादून में सबसे अधिक तीन लोग संक्रमित मिले हैं। इसके अलावा नैनीताल में दो व चंपावत में एक व्यक्ति संक्रमित मिला है। जबकि अल्मोड़ा, बागेश्वर, चमोली, हरिद्वार, पौड़ी, पिथौरागढ़, रुद्रप्रयाग, टिहरी, ऊधमसिंह नगर व उत्तरकाशी में कोरोना का कोई नया मामला नहीं मिला है। प्रदेश में कोरोना के 343821 मामले आए हैं। जिनमें 330121(96.02 फीसद) स्वस्थ्य हो चुके हैं। कोरोना से अब तक 7399 मरीजों की मौत भी हो चुकी है।

12 हजार 797 व्यक्तियों का टीकाकरण

रविवार को बहुत कम संख्या में टीकाकरण हुआ है। 332 केंद्रों पर 12 हजार 797 व्यक्तियों का टीकाकरण हुआ है। राज्य में अब तक 74 लाख 52 हजार 679 व्यक्तियों को वैक्सीन की पहली खुराक लग चुकी है। जबकि 36 लाख 38 हजार 985 का पूर्ण टीकाकरण हो चुका है। 18 से 44 आयु वर्ग के भी 44 लाख 73 हजार 875 व्यक्तियों को वैक्सीन की पहली और 15 लाख 51 हजार 197 को दोनों खुराक लग चुकी हैं।