आम जनता के कंधे महंगाई के बोझ से बोझिल

आम जनता के कंधे महंगाई के बोझ से बोझिल

आम जनता के कंधे महंगाई के बोझ से बोझिल होते जा रहे हैं हर सामान के मूल्य बढ़ते जा रहे हैं पेट्रोल और डीजल के बाद अब सीएनजी (CNG Price in Dehradun) भी महंगी हो गई है वैसे तो पर्यावरण को बचाने के लिए एक ओर पेट्रोल-डीजल के उपयोग को कम करने के लिए सीएनजी के प्रयोग के लिए लोगों को सतर्क किया जा रहा है, लेकिन इस बीच सीएनजी, पेट्रोल और डीजल से भी महंगी हो गई है, जिससे आम जनता और टूर एंड ट्रेवल्स कारोबारियों को अब परेशानी हो रही है

देहरादून निवासी जोगेंद्र का बोलना है कि लगातार महंगाई बढ़ती जा रही है, लेकिन तनख्वाह उतनी ही है उसमें कोई बढ़ोतरी नहीं हुई है उन्होंने बोला कि सीएनजी के पंप पहले से ही शहर में कम थे लंबी लाइन में लगकर सीएनजी भरवानी पड़ती थी, लेकिन अब महंगी सीएनजी होने के चलते अधिक कोई इसे नहीं भरवाएगा और फिर वही पर्यावरण को हानि पहुंचाने वाले पेट्रोल और डीजल का उपयोग होगा

वहीं राजधानी देहरादून में सीएनजी के मूल्य बढ़ने से टूर एंड ट्रेवल्स कारोबारियों पर भी बुरा असर पड़ा है व्यवसायी तसलीम मलिक ने बताया कि कोविड से अब तक आर्थिकी चोट से ट्रैवल व्यवसायी उभर नहीं पाए हैं वहीं, सीएनजी के महंगी होने के चलते हम पर और परेशानियां बढ़ गई हैं मलिक ने बताया कि ईंधन के महंगा होने से यात्रा महंगा हो गया है सवारी इतने पैसे देती नहीं है और वहीं जगह-जगह टोल टैक्स भी देना पड़ता है बता दें कि राजधानी देहरादून में सीएनजी 96 रुपये प्रति किलो हो गई है, जबकि पेट्रोल के मूल्य 95.35 रुपये प्रति लीटर और डीजल के मूल्य 90.34 प्रति लीटर हो गए हैं