दुनिया के सबसे बड़े चिड़ियाघर की शान बढ़ाएंगे बेताल और शिखा

दुनिया के सबसे बड़े चिड़ियाघर की शान बढ़ाएंगे बेताल और शिखा

उत्तराखंड के नैनीताल में स्थित चिड़ियाघर (Nainital Zoo Animals) में काफी प्रजातियों के जानवर उपस्थित हैं पर्यटक दूर-दूर से इस चिड़ियाघर के जानवरों का दीदार करने के लिए पहुंचते हैं अब तक यहां बाघों की संख्या पांच थी हालांकि यहां अब सिर्फ तीन ही बाघों का दीदार करने को मिलेगा अन्य दो बाघ यहां से गुजरात भेजे गए हैं, जो दुनिया के सबसे बड़े चिड़ियाघर यानी जूलॉजिकल रेस्क्यू एंड रिहैबिलिटेशन किंगडम (Greens Zoological Rescue and Rehabilitation Kingdom Gujarat) की शान बढ़ाएंगे

नैनीताल के चिड़ियाघर में इन दोनों बाघों को भिन्न-भिन्न समय अवधि पर लाया गया था जू के सबसे उम्रदराज बाघों में शामिल बेताल 16 वर्ष से भी अधिक उम्र का है और उसे बेतालघाट से लाया गया था वर्ष 2017 में यह बाघ एक ट्रैप में फंस गया था उसे वहां से रेस्क्यू करने के बाद 31 जनवरी को नैनीताल के चिड़ियाघर लाया गया था वह यहां साढ़े पांच सालों तक रहा और पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र था

गुजरात भेजे जाने वाले बाघ में एक मादा बाघ भी है, जिसका नाम शिखा है वर्ष 2019 में फायर सीजन के दौरान एक 6 महीने की मादा शावक को किशनपुर तराई ईस्ट हल्द्वानी से वन कर्मचारियों ने रेस्क्यू किया था इस बाघ को रानीबाग रेस्क्यू सेंटर में रखा गया शिखा काफी मिलनसार है इसे मार्च 2021 को नैनीताल चिड़ियाघर लाया गया था

नैनीताल के डीएफओ चंद्रशेखर जोशी ने बताया कि इन बाघों को भेजने के निर्देश सेंट्रल जू अथॉरिटी और चीफ वाइल्ड लाइफ वार्डन की तरफ से मिले थे इन्हें गुजरात के जामनगर स्थित जूलॉजिकल रेस्क्यू एंड रिहैबिलिटेशन सेंटर भेजा गया है यह बाघ अब वहां की शोभा बढ़ाएंगे