अपने ही माता-पिता की ह्त्या कर भाग रहा था युवक, रास्ते में हुआ कुछ ऐसा कि गवानी पड़ी अपनी जान

अपने ही माता-पिता की ह्त्या कर भाग रहा था युवक, रास्ते में हुआ कुछ ऐसा कि गवानी पड़ी अपनी जान

जयपुर: प्रकृति हमेशा तत्काल न्याय करती है। एक ऐसा ही मुद्दा राजस्थान का सामने आया है। जिसमें अपने ही माता-पिता के हत्यारे को उसी समय सजा मिल गई व युवक की भी मृत्यु हो गई। यह मुद्दा राजस्थान के नागौर का है। जहां बीते बुधवार को एक बेटे ने कुल्हाड़ी से अपने माता-पिता की मर्डर कर दी। जब वो इस निर्मम कार्य को अंजाब देकर भाग रहा था। उसी समय उसकी करनी की सजा उसे मिली गई। रास्ते में एक वाहन से उसकी बाइक की भिड़त में उसकी मृत्यु हो गई।

यह मुद्दा नागौर जिले के भदाणा गांव की हैं। पुलिस ने बोला कि डेह रोड पर एक मोटरसाइकिल सवार के एक्सीडेंट में गंभीर घायल होने की सूचना मिली थी। पुलिस जब तक मौके पर पहुंची तब तक मोटरसाइकिल सवार की मृत्यु हो गई थी। जाँच के बीच गांव वालो ने पुलिस को बोला कि यह भदाणा का रहने वाला निवासी हनुमानराम है। जाँच चल ही रही थी कि इस दौरान यह सूचना मिली कि हनुमानराम ने कुल्हाड़ी से अपने पिता रुघाराम (82) व मां पतासीदेवी की मर्डर कर दी थी।

पुलिस ने मौके पर जाकर देखा तो दोनों के सिर व गले पर कुल्हाडी से वार कर उन्हें मारा गया था। वहीं, आरोपी की पत्नी ने बोला कि मर्डर के पश्चात् जब हनुमानराम भाग रहा था तो उसने पीछे आवाज देकर रोकना चाहा, परन्तु वह नहीं रुका था। इसके पश्चात् में उसकी भी मृत्यु की समाचार समें आई हैं। पुलिस मुद्दे की जाँच में जुटी गई है। इस मुद्दे पर बताया जा रहा है कि बेटा आर्थिक तंगी से परेशान था व इसके चलते ही उसने माता पिता की मर्डर कर दी थी। यह भी माना जा रहा है कि उसका दुर्घटना न हुआ हो। जबकि उसने खुद ही जान दे दी हो। पुलिस मुद्दे की जांचपड़ताल कर रही हैं।