उत्तर प्रदेश में दो जुलाई तक बेहद सक्रिय रहने का अनुमान

उत्तर प्रदेश में दो जुलाई तक बेहद सक्रिय रहने का अनुमान

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में रविवार रात से सक्रिय मानसून अब बहुत ज्यादा सक्रिय हो गया है. मौसम विभाग ने यूपी के अधिकतर इलाकों में आज बारिश की आसार जताई है. पूर्वांचल के बाद अब इसके प्रदेश भर में दो जुलाई तक बेहद सक्रिय रहने का अनुमान है. मौसम विभाग ने मंगलवार को सारे प्रदेश में कुछ स्थानों पर भारी बारिश होने की चेतावनी जारी की है. इनकी चेतावनी खासतौर पर पूर्वी उत्तर प्रदेश के जिलों को लेकर है.

उत्तर प्रदेश में रविवार देर शाम से पहुंचा मानसून सोमवार प्रातः काल तक पूर्वी यूपी में बहुत ज्यादा सक्रिय रहा. इस अवधि में पूर्वी अंचलों में अधिकतर स्थानों पर भारी बारिश हुई. इसके साथ ही अवध क्षेत्र के कुछ जिलों में भी इस दौरान हल्की बारिश हुई. अब इसके मध्य के साथ पश्चिमी यूपी में भी सक्रिय होने का अनुमान है. प्रदेश में सोमवार को वाराणसी के साथ ही गोरखपुर में बहुत ज्यादा बारिश हुई. इसके अतिरिक्त चित्रकूट के कर्वी व मऊ में तथा प्रयागराज और बांदा में भी जमकर बरसात हुई.

आज भी पूर्वी यूपी के कुछ क्षेत्रों में तेज बारिश की आसार है. पश्चिमी यूपी में गरज-चमक के साथ बौछारें पड़ेंगी. राजधानी में भी बादलों की आवाजाही के साथ एक-दो बार बौछारें पड़ सकती हैं. लखनऊ व आसपास के इलाकों में भी रविवार की रात व कहीं-कहीं सोमवार के तड़के बारिश हुई. आज भी आसमान पर बादल हैं. पूर्वी यूपी पर मानसून ज्यादा मेहरबान है. अब तो अगले तीन-चार दिन ऐसे ही रहने की आसार है.

आसमान पर बादल होने तथा पूर्वी यूपी में बरसात होने के कारण के कारण पिछले 24 घंटों में तापमान में चार डिग्री की गिरावट दर्ज की गई है. न्यूनतम तापमान भी सामान्य के मुकाबले 3.6 डिग्री कम 22.8 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया. इसमें भी लगभग तीन डिग्री की कमी दर्ज की गई. वातावरण में नमी 96 फीसद बनी हुई है. इसके चलते उमस हो रही है.