सीएम योगी का निर्देश- बारिश से पैदा हुई स्थिति से निपटें अधिकारी, पूरी सक्रियता से राहत कार्य में जुटें

सीएम योगी का निर्देश- बारिश से पैदा हुई स्थिति से निपटें अधिकारी, पूरी सक्रियता से राहत कार्य में जुटें

उत्तर प्रदेश के कई जिलों में भारी बारिश के कारण जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है। कई इलाकों में जबर्दस्त जलभराव के कारण दिक्कतें हो रहा हैं। अत्यधिक बारिश, वज्रपात, डूबने और सर्पदंश से कई लोगों की मृत्यु भी हुई है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में हुई अत्यधिक वर्षा से पैदा हुए हालात में राहत कार्य पूरी सक्रियता से संचालित करने और प्रभावित लोगों को तत्परतापूर्वक मदद व राहत प्रदान करने का निर्देश दिया है।

उत्तर प्रदेश में अत्यधिक बारिश से उत्पन्न स्थिति की मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को अपने सरकारी आवास पर समीक्षा की। समीक्षा बैठक में सीम योगी ने निर्देश दिया कि जहां कहीं भी जलभराव हुआ है, उन क्षेत्रों में तत्काल जल निकासी की व्यवस्था की जाए। नगरीय निकाय पूरी क्षमता के साथ जल निकासी के प्रबंध करें। ग्रामीण इलाकों में भी जल जमाव की समस्या का समाधान किया जाए।


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि संक्रामक रोग न फैलने पाएं, इसके लिए सभी जरूरी इंतजाम किये जाएं। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि प्राथमिक और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों तथा जिला अस्पतालों में डाक्टरों, पैरामेडिक्स सहित सभी आवश्यक दवाओं की उपलब्धता बनाये रखी जाए। एंटी रेबीज इंजेक्शन तथा एंटी स्नेक वेनम सभी अस्पतालों और स्वास्थ्य केंद्रों पर उपलब्ध रहे।


सीएम योगी आदित्यनाथ ने शहरी तथा ग्रामीण क्षेत्रों में फागिंग और एंटी लार्वा स्प्रे करने के निर्देश दिए हैं। जिला प्रशासन के अधिकारियों को सक्रियता के साथ पीड़ितों की मदद करने की हिदायत दी है। उन्होंने आपदा से प्रभावित लोगों को तत्काल आर्थिक सहायता राशि उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है।


सीएम योगी का निर्देश- जमाखोरों व मिलावटखोरों के खिलाफ कार्रवाई करें, नियंत्रण में आएगी महंगाई

सीएम योगी का निर्देश- जमाखोरों व मिलावटखोरों के खिलाफ कार्रवाई करें, नियंत्रण में आएगी महंगाई

उत्तर प्रदेश में खाद्य तेलों के साथ अन्य उत्पादों के तेजी से बढ़ते दाम पर अब सीएम योगी आदित्यनाथ बेहद गंभीर हैं। सीएम योगी आदित्यनाथ ने लोक भवन में उच्च सतरीय टीम -09 के साथ बैठक के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने टीम को सख्त एक्शन लेने का निर्देश दिया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में सब्जियों, खाद्य तेलों और दाल के मूल्य में अचानक तेजी देखी जा रही है। भारत सरकार ने इस संबंध में स्टॉक लिमिट भी तय की है। इसी कारण जमाखोरों के खिलाफ छापेमारी कर सख्त कार्रवाई की जाए। उन्होंने कहा कि हमारा प्रयास है कि सभी जगह मूल्य नियंत्रित रहें। इसके लिए सभी जरूरी कदम उठाए जाएं। इतना ही नहीं त्योहारों के दृष्टिगत खाद्य सामग्री में मिलावटखोरी की हर शिकायत का गंभीरता से संज्ञान लेते हुए सख्त कार्रवाई की जाए।


जनपदों में 28 से दीपावली मेला

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश के सभी जनपदों में 28 अक्टूबर से दीपावली मेले का आयोजन प्रारंभ हो रहा है। दीपावली मेले में स्थानीय शिल्पकला, व्यंजन आदि उत्पादों को प्रोत्साहित किया जाए। इन मेलों में स्थानीय जनप्रतिनिधियों की सहभागिता होगी। अधिकाधिक जनता को मेले से जोडऩे का प्रयास हो।

मौसम जनित बीमारियों का तेजी से हो इलाज


मुख्यमंत्री ने कहा कि डेंगू, कॉलरा, डायरिया मलेरिया सहित वायरल से प्रभावित जनपदों में विशेष सतर्कता बरती जाए। एटा, मैनपुरी और कासगंज में विशेषज्ञ चिकित्सकों की टीम पहुंच गई है, विशेषज्ञों की यह टीम स्थानीय चिकित्सकों का मार्गदर्शन करेगी। अस्वस्थ लोगों के उपचार के लिए सभी अस्पतालों में प्रबंध किए गए हैं। सर्विलांस को बेहतर करते हुए हर एक मरीज के स्वास्थ्य की सतत निगरानी की जाए। बचाव के लिए व्यापक स्वच्छता, सैनिटाइजेशन और फॉगिंग का कार्य सतत जारी रखें। सभी जगह पर निगरानी समितियों को एक्टिव करने की जरूरत है।