यूपी ने हासिल की रोजाना 25 हजार सैंपल टेस्टिंग क्षमता

यूपी ने हासिल की रोजाना 25 हजार सैंपल टेस्टिंग क्षमता

लखनऊ: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के यूपी में रोजाना 25 हजार कोविड टेस्ट के टार्गेट को स्वास्थ्य विभाग ने पूरा कर लिया है। साथ ही यूपी के कोविड अस्पतालों में डेढ़ लाख से ज्यादा बेड्स की उपलब्धता हो गई है, जिस पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने संतोष जाहीर किया है।

सीएम योगी ने अधिकारियों की जरूरी मीटिंग में आदेश दिए हैं कि रोजाना टेस्टिंग क्षमता को बढ़ाकर 30 हजार टेस्ट रोजाना करें। साथ ही कोविड अस्पतालों की व्यवस्थाओं को चुस्त-दुरुस्त बनाए रखें। उन्होंने बोला कि अनलॉक-2 में भी कोविड-19 के संक्रमण से बचने के लिए निरंतर सावधानी बरतना महत्वपूर्ण है। सोशल डिस्टेंसिंग को प्रभावी तरीका से लागू किया जाए।  

सीएम योगी ने आदेश दिए हैं कि मेडिकल टीम घर-घर जाकर लोगों की मेडिकल स्क्रीनिंग करें, उनके द्वारा इकट्ठा किए गए डाटा की मॉनिटरिंग की जाए। उन्होंने बोला कि इससे कोविड-19 के संक्रमण से निपटने के लिए बेहतर रणनीति तय करने में मदद मिलेगी। साथ ही मुख्यमंत्री योगी ने रैपिड एन्टीजेन टेस्ट को भी बढ़ावा देने के आदेश दिए। मुख्यमंत्री योगी ने बोला कि कोरोना के साथ-साथ संचारी रोगों से बचाव का व्यापक प्रचार-प्रसार भी किया जाए।

सीएम योगी ने एक बार फिर बोला कि सभी सरकारी व व्यक्तिगत संस्थानों में कोविड हेल्प डेस्क स्थापित किया जाए। मेरठ मंडल पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है। उन्होंने मेरठ मंडल के सभी जनपदों में 10 दिवसीय विशेष अभियान संचालित करने के लिए बोला है।

सीएम योगी ने अधिकारियों को निर्देशित किया है कि मनरेगा के माध्यम से जल संचयन के काम कराए जाएं। संक्रमण से सुरक्षा के प्रोटोकॉल का पालन कराते हुए औद्योगिक इकाइयों को पूरी क्षमता से संचालित किया जाए। टिड्डी दल पर भी प्रभावी नियंत्रण के लिए सभी प्रबन्ध करें। उन्होंने बोला कि कृषि विज्ञान केन्द्रों के माध्यम से जीरो बजट खेती को प्रोत्साहित किया जाए।