सीएम योगी ने कहा कि चौरी चौरा के वीरों ने रचा नया इतिहास, गाने पर मंत्रमुग्ध हुए मोदी

सीएम योगी ने कहा कि चौरी चौरा के वीरों ने रचा नया इतिहास, गाने पर मंत्रमुग्ध हुए मोदी

प्रधानमंत्री, राज्यपाल के वर्चुअल और मुख्यमंत्री की मौजूदगी में शौर्य, गर्व और संकल्प की भावना से पूरित चौरीचौरा थीम सांग की प्रस्तुति कलाकारों ने दी। छात्राओं की प्रस्तुति से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भावविभोर हो गए। स्वाधीनता आंदोलन को महत्वपूर्ण मोड़ देने वाली ऐतिहासिक चौरीचौरा की घटना के शताब्दी वर्ष समारोह के लिए प्रदेश सरकार ने बेहद भावपूर्ण गीत तैयार कराया गया है। वीरेंद्र वत्स रचित इस गीत में शौर्य, गर्व और संकल्प का अद्भुत समन्वय है।

‘धन्य-धन्य उत्तर प्रदेश’
बता दें कि वीरेंद्र वत्स रचित गीत ‘धन्य-धन्य उत्तर प्रदेश’ इस वर्ष गणतंत्र दिवस पर उत्तर प्रदेश की झांकी के साथ राजपथ पर गुंजा था। यूपी की झांकी को सर्वश्रेष्ठ का पुरस्कार दिलाने में इस गीत की महती भूमिका थी। यही नहीं, वीरेंद्र ने इससे पहले राज्य सरकार के ढाई साल व तीन साल पूरे होने पर गीत लिखे थे और गंगा यात्रा का मुख्य गीत भी वीरेंद्र की ही कलम का जादू था। अब वीरेंद्र ने ही चौरीचौरा शताब्दी वर्ष का थीम सांग भी रचा है। करीब तीन मिनट का यह भावपूर्ण गीत शताब्दी वर्ष समारोह में सतत गुंजायमान रहेगा।

बदलापुर के गीत ‘जी करदा’ से सुर्खियों में आए
गीत के रचनाकार वीरेंद्र वत्स मूलरूप से सुल्तानपुर जिले के निवासी हैं और वर्तमान में लखनऊ में रहते हैं। फिल्म बदलापुर के गीत ‘जी करदा’ से सुर्खियों में आए ‘दिव्य कुमार ने इस गीत को अपने कर्णप्रिय स्वर से अविस्मरणीय बनाया है जबकि राजेश सोनी के सुर सहसा ही लोगों को यह गीत गुनगुनाने को मजबूर करते हैं। गीत को यूपी संस्कृति विभाग द्वारा तैयार कराया गया है। गोरखपुर के जिलाधिकारी के विजयेंद्र पांडियन ने बताया कि महोत्सव में कार्यक्रमों की प्रस्तुति देने वाले बच्चे इसी थीम सांग पर अभ्यास करने में जुटे हैं।

‘पूरा गीत इस प्रकार है’
धरती गोरखनाथ की पावन परम महान
कण-कण में है त्याग, तप, शौर्य और बलिदान

चौरीचौरा के वीरों ने रचा नया इतिहास
कोटि-कोटि जनता के मन में भरा आत्मविश्वास

चार फरवरी की घटना से बदल गई तस्वीर
व्याकुल हुआ फिरंगी शासन लगा लक्ष्य पर तीर
अंग्रेजों को हुआ पराजय का कड़वा एहसास
चौरी चौरा के वीरों ने रचा नया इतिहास

देकर प्राण बचाया अपनी माटी का अभिमान
मोदी-योगी उन्हीं सपूतों का करते सम्मान
तम में डूबी हुई धरा पर फैला आज उजास
चौरी चौरा के वीरों ने रचा नया इतिहास

युवा देश के आगे बढ़कर शपथ आज यह लेंगे
वीरों का बलिदान कभी भी व्यर्थ न जाने देंगे
अन्तस्तल में सदा रहेगा भारत माँ का वास
चौरी चौरा के वीरों ने रचा नया इतिहास

चौरीचौरा का संदेश व्यापक
चौरीचौरा कार्यक्रम में वर्चुअल जुड़े प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि चौरीचौरा का संदेश व्यापक था। आगजनी ना केवल थाने में बल्कि जन जन में प्रज्वलित हुआ था। योगी और टीम को बधाई देता हूं। देश आजदी के 75 वे वर्ष में प्रवेश कर रहा है। चौरीचौरा की जितनी चर्चा होनी थी, उतनी नहीं हुई। आज़ादी के लिए वीर सपूतों का खून मिट्टी में मिला हुआ है। आज़ादी के आंदोलन में कम ही घटनाएं होगी जिसमें 19 लोगों को फाँसी हुई हो। बाबा राघव दास और मालवीय में 150 से अधिक लोगों को फाँसी से बचाया।

आत्मनिर्भर भारत
पीएम ने आगे कहा कि अब इतिहास के अनकहे चीजे पता चलेगी। युवा शोध कर रहे हैं। आप भी इतिहास के अनकहे चीजों को सामने ला सकते हैं। साथियों सामूहिकता से गुलामी की बेड़िया टूटी वही आत्मनिर्भर भारत का मूल आधार है। इसी से हम विश्व में दखल रखेंगे। भारत ने कोरोना काल मे 150 से अधिक देशों को जरूरी दवाई भेजा। देश में तेजी से टीकाकरण हो रहा है। अभियान को सफल बनाने में भगीरथ प्रयास हो रहा है। बजट में कोरोना से निपटने का उपाय है। दिग्गजों के अनुमान के विपरीत टैक्स का बोझ नहीं बढ़ाया गया।

स्वदेशी का अभियान
मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि प्रदेश के सभी प्रमुख शहीद स्थलों पर कार्यक्रम का आयोजन होगा। ऐतिहासिक तथ्यों पर शोध, प्रदर्शनी और पेंटिंग का आयोजन होगा। योगी ने कहा कि स्वदेशी का अभियान चलाना है। स्वालंबन हमें आत्मनिर्भर भारत की ओर अग्रसर हो रहा है। कार्यक्रम की अध्यक्ष राज्यपाल के देखरेख में आयोजन हो रहा है। शहीद परिवारों का वंदन है। शताब्दी समारोह का लोगों बताता है कि हम अपने रक्त से देश की रक्षा करते हैं।


पंचायत चुनाव: दूसरे चरण में 39 बूथों पर होगा पुनर्मतदान, जानें

पंचायत चुनाव: दूसरे चरण में 39 बूथों पर होगा पुनर्मतदान, जानें

लखनऊ: इन दिनों उत्तर प्रदेश में चुनावी माहौल बना हुआ है। 19 अप्रैल को त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव, 2021 (UP Panchayat Elections-2021) के दूसरे चरण में 20 जनपदों में वोट डाले गए थे। खबर है कि 39 बूथों पर 29 अप्रैल को पुनर्मतदान (Repoll) कराए जाएंगे।

दरअसल, पंचायत चुनाव, 2021 (UP Panchayat Elections-2021) के दूसरे चरण में होने वाले मतदान में 39 बूथों को यह निर्देश दिए गए है कि जिला निर्वाचन अधिकारी एवं प्रेक्षकों की संस्तुति के आधार पर पुनर्मतदान कराए जाए। यह आदेश राज्य निर्वाचन आयुक्त मनोज कुमार द्वारा दिए गए हैं। आपको बता दें कि जिन 39 बूथों पर पुनर्मतदान (Repoll) होगें, उनके नाम हैं- प्रतापगढ़ (21), वाराणसी (5), आजमगढ़ (5), अमरोहा (2), लखीमपुर (2), एटा (2), सुल्तानपुर (1) और चित्रकूट (1)।

मतदान पेटी पर फेंका गया पानी
जानकारी के मुताबिक, पंचायत चुनाव, 2021 (UP Panchayat Elections-2021) के दूसरे चरण में मतदान के दौरान कई धांधली के किस्से सामने आए थे। कई जगहों पर मतदान के पेटियों पर पानी डाले गए थे, तो कहीं फायरिंग। इन्हीं तमाम घटनाओं को ध्यान में रखते हुए राज्य निर्वाचन आयुक्त मनोज कुमार ने 20 जिलों के 39 बूथों पर पुनर्मतदान करने का निर्देश दिया हैं।

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव, 2021 (UP Panchayat Elections-2021) के प्रथम चरण में भी 9 जनपदों में पुनर्मतदान (Repoll) हुए थे। यह पुनर्मतदान 21 अप्रैल यानी आज 20 पोलिंग बूथों पर हो रही हैं, जिनमें प्रयागराज, जनपद आगरा , जनपद जौनपुर, रामपुर, जनपद हरदोई, कानपुर नगर, रायबरेली, झांसी, अयोध्या का नाम शामिल हैं।


Suzuki Hayabusa का नया अवतार इस दिनांक को होगा लॉन्च, मूल्य       Royal Enfield की इस सस्ती बाइक की मार्केट में धूम, बिक्री में पूरे 286 परसेंट की बढ़ोत्तरी       Ola Electric हिंदुस्तान में लगाएगा दुनिया का सबसे बड़ा चार्जिंग सेटअप       दमदार ड्राइविंग रेंज के साथ महज 18 मिनट में होगी चार्ज, Ola इलेक्ट्रिक स्कूटर जुलाई मे होगी लॉन्च       लीक हुई Mi 11X Pro और Mi 11X की कीमत       जानिए कैसा है 48MP कैमरे वाला यह स्मार्टफोन       WhatsApp यूजर्स के लिए चेतावनी! भूलकर भी नहीं करें ये गलतियां       Realme के 6000mAh बैटरी वाले फोन की मूल्य में कटौती       Apple ने हिंदुस्तान में लॉन्च किया iPad Pro, बढ़िया डिस्प्ले और 5G कनेक्टिविटी के साथ मिलेंगे कई खास फीचर्स       कार या बाइक चलाते समय नहीं कटवाना चाहते हैं Challan तो इन ऐप का करें इस्तेमाल       जोड़ों के दर्द या अर्थराइटिस की समस्या से आराम दिलाती है ब्रोकली       सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस के दर्द को दूर करने के कुछ आसान घरेलु उपाय       अगर कमजोर हो गयी है आपकी याददाश्त तो जरूर करें ये उपाय       गर्मियों में स्वस्थ रहने के लिए जरुरी है इन चीजों का सेवन       आखिर प्रेग्नेंसी में क्यों दी जाती है सूखा नारियल खाने की सलाह       क्या आप भी प्लान कर रहे हैं बच्चा तो आज से ही खाना शुरू कर दें ये चीजें       शायद आप नहीं जानते होंगे नाश्ते में अंडे खाने के ये जबरदस्त फायदे       दांतों को कमजोर बना सकती हैं ये चीजें, भूलकर भी ना करें इन चीजों का सेवन       गर्मियों में तरबूज का ज्यादा सेवन भी सेहत को पहुंचा सकता है नुकशान       गले के रोग को हल्के में न लें, लापरवाही बन सकती है इस बड़ी बीमारी की वजह