विराट कोहली के नाम है गेंदबाजी का भी ये अनोखा रिकॉर्ड

विराट कोहली के नाम है गेंदबाजी का भी ये अनोखा रिकॉर्ड

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कैप्टन विराट कोहली (Virat Kohli) की बल्लेबाजी से लेकर उनकी फील्डिंग तक के लिए तारीफ के पुल बांधने वाले हजारों फैंस आपको दिखाई दे जाएंगे, लेकिन उनकी गेंदबाजी के बारे में कोई चर्चा नहीं करता है। यदि आपको बताया जाए कि बल्ले से रिकॉर्ड बुक को भर देने वाले विराट के नाम पर गेंदबाजी के लिए भी एक ऐसा रिकॉर्ड दर्ज है, जो उनके अतिरिक्त संसार में किसी ने नहीं बनाया है तो शायद आप चौंक जाएंगे। लेकिन यही हकीकत है. विराट कोहली संसार के इकलौते गेंदबाज हैं, जिनकी फेंकी गेंद को स्कोर बुक में स्थान नहीं मिली, लेकिन उस गेंद पर आउट होने वाले बल्लेबाज का विकेट भारतीय कैप्टन के खाते में दर्ज हो चुका है।

धोनी की कप्तानी में दिखाया था ये अनूठा करिश्मा
दरअसल विराट कोहली ने यह कारनामा वर्ष 2011 में टीम इंडिया के इंग्लैंड दौरे के दौरान दिखाया था। उन्होंने इस दौरे पर महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) की कप्तानी में टी20 सीरीज के एक मैच में उन्होंने केविन पीटरसन (Kevin Pieterson) का विकेट लेकर यह अनूठा रिकॉर्ड बनाया था। धोनी ने 31 अगस्त, 2011 को खेले गए इस मैच में विराट को 8वें ओवर में गेंदबाजी करने का मौका दिया। कोहली के सामने विकेट पर उपस्थित थे पीटरसन। मध्यम तेज गति की गेंदबाजी करने वाले विराट ने ओवर की पहली ही गेंद लेग स्टंप से बाहर फेंक दी, जिसे लेग ग्लांस करने के चक्कर में पीटरसन क्रीज से बाहर आ गए। धोनी के लिए इतना मौका बहुत ज्यादा था व उन्होंने तत्काल पीटरसन को स्टंप आउट कर दिया। अंपायर ने पीटरसन को आउट दिया, लेकिन विराट की इस गेंद को वाइड घोषित कर दिया। इस तरह विराट ने अपने करियर में एक भी वैध गेंद फेंके बिना ही विकेट लेने का वर्ल्ड रिकॉर्ड बना दिया। विराट ने इस मैच में 3 ओवर में 22 रन देकर 1 विकेट लिया, लेकिन टीम इंडिया यह मैच 6 विकेट से पराजय गईं।

वनडे में 22 ओवर फेंकने के बाद मिला था पहला विकेट
भले ही कोहली ने टी20 इंटरनेशनल मैच में बिना वैध गेंद फेंके ही विकेट चटकाने का कारनामा कर लिया हो, लेकिन वनडे क्रिकेट में कोहली को अपना पहला विकेट लेने के लिए 22 ओवर गेंदबाजी करनी पड़ी थी। उन्हें वनडे में भी पहला विकेट 2011 के इसी इंग्लैंड दौरे पर मिला था, जब उन्होंने 16 सितंबर, 2011 को कार्डिफ में खेले गए वनडे मैच में तत्कालीन इंग्लिश कैप्टन व महान बल्लेबाज एलेस्टेयर कुक (Alastair Cook) को अपनी स्विंग पर चौंकाते हुए बोल्ड कर दिया था। यह इंग्लैंड की पारी का 18वां व कोहली का मैच में पहला ओवर था। मजे की बात ये है कि 18वें ओवर की चौथी गेंद पर कोहली ने कुक को पैडल स्वीप करने के कोशिश में फंसा लिया था, लेकिन शार्ट फाइन लेग पर खड़े राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) के हाथों से कैच छिटक गया था। विराट ने इसके बाद अगली ही गेंद पर कुक को बोल्ड आउट करते हुए इस कैच के छूटने के गम को जश्न में बदल लिया।

वनडे व टी20 में 4-4 विकेट हैं कोहली के नाम
कैप्टन बनने के बाद से गेंदबाजी में हाथ नहीं आजमाने वाले विराट कोहली के नाम पर टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट में 82 मैच में 4 विकेट दर्ज हैं, जबकि वनडे क्रिकेट में भी उन्होंने 248 मैच खेलकर 4 ही विकेट अपने नाम किए हैं। हालांकि कोहली ने टेस्ट क्रिकेट में भी 86 मैच में 175 गेंद फेंकी हैं, लेकिन क्रिकेट के इस लंबे संस्करण में वे अपना विकेट का खाता खोलने में अभी तक पास नहीं हुए हैं