यह दावेदार आईसीसी चेयरमैन पद के लिए सौरव गांगुली को देगा कड़ी टक्कर

यह दावेदार आईसीसी चेयरमैन पद के लिए सौरव गांगुली को देगा कड़ी टक्कर

इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल यानी आईसीसी के चेयरमैन शशांक मनोहर (ICC Chairman Shashank Manohar) ने आखिरकार अपने पद से त्याग पत्र दे दिया। शशांक मनोहर दो बार आईसीसी के चेयरमैन रहे हैं। शशांक के इस्तीफे के बाद डिप्टी चेयरमैन इमरान ख्वाजा इस पद को संभालेंगे। जल्द ही आईसीसी चेयरमैन पद के लिए चुनाव होने वाला है, जिसे कुछ हफ्तों में आईसीसी बोर्ड मंजूरी दे सकता है। बीसीसीआई (BCCI) अध्‍यक्ष सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) को इस पद का मुख्‍य दावेदार माना जा रहा है। अगर वह चेयरमैन के इस मुकाबले में शामिल होते हैं तो उन्‍हें इंग्‍लैंड एवं वेल्‍स क्रिकेट बोर्ड के पूर्व चेयरमैन 72 वर्ष के कोलिन ग्रेव्‍स से चुनौती मिल सकती है। वेस्टइंडीज क्रिकेट के पूर्व प्रमुख डेव कैमरन, न्यूजीलैंड के ग्रेगोर बार्कले, क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका के क्रिस नेनजानी भी इस पद को लेकर रुचि दिखा चुके हैं।

आईसीसी चेयरमैन के मजबूत दावेदार: कोरोना वायरस (Coronavirus) से क्रिकेट भी बुरी तरह जूझ रहा है व कई दिग्‍गज पहले भी कह चुके हैं कि इस कठिन समय में क्रिकेट को संभालने के लिए सौरव गांगुली जैसे लीडर की आवश्यकता है। वही देखा जाए तो प्रदेश व बीसीसीआई में पदाधिकारी के तौर पर गांगुली का छह वर्ष का कार्यकाल 31 जुलाई को समाप्त हो रहा है व वह आईसीसी चेयरमैन पद के लिए दावेदारी पेश करने के भी पात्र हैं। हालांकि देखना होगा कि उच्‍चतम न्‍यायालय उन्‍हें कूलिंग ऑफ पीरियड में छूट देकर बीसीसीआई अध्‍यक्ष पद पर बने रहने का मौका देता है या नहीं।

बता दें हाल ही में समाचार आई थी कि बीसीसीआई शशांक मनोहर (Shashank Manohar) से नाराज था। बीसीसीआई के एक ऑफिसर ने शशांक मनोहर पर जानबूझकर टी20 वर्ल्ड कप के आयोजन के मामले पर अपनी टांग अड़ाने का आरोप लगाया था। बीसीसीआई का मानना था कि टी20 वर्ल्ड कप पर जल्दी निर्णय नहीं लिया जा रहा है, जिसका प्रभाव आईपीएल 2020 की तैयारियों पर पड़ सकता है।