जाने क्यों पूर्व बल्लेबाज मोहम्मद कैफ ने केएल राहुल को बताया 'कामचलाऊ'

जाने क्यों पूर्व बल्लेबाज मोहम्मद कैफ ने केएल राहुल को बताया 'कामचलाऊ'

नई दिल्ली: टीम इंडिया के पूर्व बल्लेबाज मोहम्मद कैफ (Mohammed Kaif) को अपनी बेबाक राय के लिए जाना जाता है। कैफ ने गुरुवार को धोनी व केएल राहुल पर बड़ी बातें कही। कैफ ने सीधे तौर पर बोला कि धोनी (MS Dhoni) को आप जल्दबाजी में अलग ना करें क्योंकि वो आज भी हिंदुस्तान के बेस्ट विकेटकीपर हैं। साथ ही कैफ ने केएल राहुल (KL Rahul) को कामचलाऊ कीपर बताया।
कैफ का बड़ा बयान
मोहम्मद कैफ ने टाइम्स ऑफ इंडिया से खास वार्ता में धोनी पर अपनी राय दी। उन्होंने कहा, 'लोग सोच रहे हैं कि धोनी बहुत ज्यादा समय से बाहर हैं व आईपीएल में खेलकर वो सरलता से टीम इंडिया में खेल पाएंगे लेकिन मुझे ऐसा नहीं लगता। धोनी बहुत बड़े खिलाड़ी हैं, वो एक मैच विनर हैं। धोनी जानते हैं कि दबाव में छठे व 7वें नंबर पर कैसे बल्लेबाजी की जाती है। मेरी नजर में धोनी नंबर 1 खिलाड़ी हैं। '

कैफ (Mohammed Kaif) ने आगे कहा, 'कोई फर्क नहीं पड़ता कितने खिलाड़ी आएं, वो धोनी की स्थान नहीं ले सकते। मुझे लगता है कि अगर आप टीम से किसी को हटाते हैं तो उसका विकल्प मिलना भी महत्वपूर्ण होता है। यही नहीं धोनी ने वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में जडेजा के साथ अच्छी साझेदारी की थी। उन्होंने लगभग हिंदुस्तान को सेमीफाइनल जिता दिया था। ' मोहम्मद कैफ ने बोला कि धोनी का कोई विकल्प नहीं है। धोनी की स्थान कई खिलाड़ी आजमाए गए लेकिन मुझे नहीं लगता कि कोई उनकी स्थान ले पाएगा।

केएल राहुल कामचलाऊ विकेटकीपर!
मोहम्मद कैफ (Mohammed Kaif) ने केएल राहुल की विकेटकीपिंग पर भी बड़ी बात कही। उन्होंने कहा, 'मुझे नहीं लगता कि मोहम्मद कैफ लंबे समय के लिए ठीक विकल्प हैं। वो बैकअप विकेटकीपर के तौर पर रह सकते हैं। ऋषभ पंत व संजू सैमसन भी धोनी का विकल्प नहीं बन सके। जब आप सचिन, द्रविड़ के विकल्पों की बात करते हो तो विराट कोहली, रोहित शर्मा, रहाणे, पुजारा जैसे नाम सामने आते हैं। उन्होंने उनकी स्थान भरी है लेकिन धोनी के साथ ऐसा नहीं है। धोनी आज भी नंबर 1 विकेटकीपर हैं व वो बेहद फिट हैं, उन्हें जल्दबाजी में टीम से अलग नहीं करना चाहिए। ' बता दें एमएस धोनी वर्ष 2019 वर्ल्ड कप सेमीफाइनल के बाद से ही टीम इंडिया से बाहर हैं। पिछले एक वर्ष से टीम इंडिया ऋषभ पंत को मौका दे रही थी लेकिन अंत में ये जिम्मेदारी केएल राहुल को मिल गई।