साई अभ्यास बंद हुए ,केंद्र कोरोना के बढ़ते केस के कारण

साई अभ्यास बंद हुए ,केंद्र कोरोना के बढ़ते केस के कारण

भारतीय खेल प्राधिकरण ने कोविड संक्रमण के बढ़ते केसों मामलों की वजह से देश में 67 अभ्यास केंद्रों को बंद करने का निर्णय ले चुके है। हालांकि एलीट खिलाड़ियों के राष्ट्रीय शिविर तय कार्यक्रम के मुताबिक जारी होने वाले है। इस निर्णय का पटियाला और बेंगलुरू जैसे राष्ट्रीय उत्कृष्टता केंद्रों पर  प्रभाव नहीं पड़ेगा जहां एलीट खिलाड़ियों के शिविर अब भी चल रहा है। साई की तरफ से सोमवार को जारी बयान में बोला गया है कि, ‘कोविड  संक्रमण के बढ़ते केसों की वजह से भारतीय खेल प्राधिकरण ने देश भर में 67 साई अभ्यास केंद्रों को बंद करने का निर्णय कर लिया है। यह निर्णय विभिन्न राज्यों द्वारा खिलाड़ियों की सुरक्षा के लिये खेल गतिविधियां निलंबित करने के निर्देशों के मद्देनजर भी रखा गया है।’

साई के एक प्रवक्ता ने कहा है कि, ‘एशियाई खेलों और राष्ट्रमंडल खेलों की तैयारी कर रहे एलीट खिलाड़ियों के अभ्यास कार्यक्रम पर इस फैसले का प्रभाव नहीं पड़ने वाला है। वे राष्ट्रीय उत्कृष्टता केंद्रों पर बायो बबल में अभ्यास कर रहे हैं और सारी एहतियात बरतने का काम कर रहे है। आने वाले वक़्त में हालात की समीक्षा करके केंद्र को फिर से खोलने के बारे में निर्णय लिया जाने वाला है।

SAI ने  बीते वर्ष सप्ताह ही कड़े कोविड प्रोटोकॉल लागू करने का एलान कर दिया है जिसमें सभी केंद्रों पर खिलाड़ियों और सहयोगी स्टाफ की साप्ताहिक जांच शामिल है। साई के भोपाल केंद्र पर 24 खिलाड़ियों और 12 स्टाफ सदस्यों के पॉजिटिव पाए जाने के उपरांत ये निर्देश जारी किए गए थे। इंडिया में सोमवार को कोविड संक्रमण के 1,79,723 मामले आए। इससे कुल सक्रिय केस 7,23,619 हो गए और इस सुबह तक 146 लोगों की जान के साथ मरने वालों का आंकड़ा बढकर 4,83,936 हो चुका है।


गोलकीपर सविता मिली सकती है कप्तानी, चीन को मिला पेनाल्टी शूटआउट

गोलकीपर सविता मिली  सकती है कप्तानी,  चीन को मिला  पेनाल्टी शूटआउट

विस्तार अनुभवी गोलकीपर सविता पूनिया मस्कट में 21 से 28 जनवरी तक होने वाले महिला एशिया कप हॉकी टूर्नामेंट में भारत की 18 सदस्यीय टीम की अगुवाई करेंगी। अनुभवी दीप ग्रेस एक्का को उप कप्तान नियुक्त किया गया है।  '


हॉकी इंडिया की ओर से बुधवार को घोषित 18 सदस्यीय टीम में 16 टोक्यो ओलंपिक में भाग लेने वाली खिलाड़ी शामिल हैं। नियमित कप्तान रानी रामपाल बेंगलुरु में चोट से उबर रही हैं। इसलिए उन्हें टीम में शामिल नहीं किया गया है। भारत को जापान, मलयेशिया और सिंगापुर के साथ पूल ए में रखा गया है। 

भारतीय टीम अपने खिताब के बचाव का अभियान टूर्नामेंट के पहले दिन मलयेशिया के खिलाफ करेगी। प्रतियोगिता में शीर्ष चार में रहने वाली टीमें स्पेन और नीदरलैंड में होने वाले विश्व कप 2022 के लिए क्वालिफाई करेंगी।

21 से 28 जनवरी तक मस्कट में खेला जाएगा महिलाओं का यह टूर्नामेंट। 18 सदस्यीय टीम में चोट के चलते रानी को नहीं किया गया शामिल। 21 को मलयेशिया के खिलाफ अभियान का आगाज करेगी भारतीय टीम। दो बार भारतीय टीम ने अब (2004, 2017) तक जीती है ट्रॉफी। 2017 में हुए पिछले संस्करण में भारत ने चीन को पेनाल्टी शूटआउट में 5-4 से हराकर जीता था खिताब।

टीम 
गोलकीपर: सविता पूनिया (कप्तान), रजनी एतिमारपू। 
डिफेंडर: दीप ग्रेस एक्का (उप कप्तान), गुरजीत कौर, निक्की प्रधान, उदिता। 
मिडफील्डर: निशा, सुशीला चानू, मोनिका, नेहा, सलीमा टेटे, ज्योति, नवजोत कौर। 
फॉरवर्ड: नवनीत कौर, लालरेम्सियामी, वंदना कटारिया, मारियाना कुजूर, शर्मिला देवी।

भारत का कार्यक्रम
vs मलयेशिया 21 जनवरी
vs जापान 23 जनवरी
vs सिंगापुर 24 जनवरी
सेमीफाइनल 26 जनवरी
फाइनल 28 जनवरी