अगले वर्ष हिंदुस्तान में होने वाले T20 World Cup पर भी है खतरा

अगले वर्ष हिंदुस्तान में होने वाले T20 World Cup पर भी है खतरा

नई दिल्ली : अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट काउंसिल (ICC) ने हाल ही में एक मीटिंग आयोजित कर यह फैसला लिया था कि 2021 में हिंदुस्तान में होने वाले टी20 विश्व कप (T20 World Cup) की मेजबानी यथावत बनी रहेगी व इस वर्ष अक्टूबर-नवंबर के मध्य होने वाले टी-20 विश्व कप को स्थगित कर उसे 2022 में ऑस्ट्रेलिया में ही कराया जाएगा. आईसीसी ने यह फैसला भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) व क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (CA) की सहमति से लिया है. इसके बावजूद हिंदुस्तान में होने वाले टी-20 विश्व कप पर खतरा मंडरा रहा है. आईसीसी ने बैकअप के तौर पर संयुक्त अरब अमीरात (Emirates Cricket Board) व श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड (Sri Lanka Cricket Board) को भी तैयार रहने को बोला है.

कोरोना वायरस महामारी है कारण

अभी टूर्नामेंट में हालांकि एक वर्ष से भी ज्यादा का समय बाकी है, इसके बावजूद आईसीसी ने अभी से टी-20 विश्व कप 2021 को लेकर बैकअप प्लान बना रखा है. एक क्रिकेट वेबसाइट की रिपोर्ट की मानें तो जिस तरह से हिंदुस्तान में कोरोना वायरस (Coronavirus) के मुद्दे बढ़ते जा रहे हैं, इसे देखते हुए आईसीसी ने यह बैकअप प्लान तैयार किया है. उसका मानना है कि अगर कोविड-19 महामारी के कारण हिंदुस्तान टूर्नामेंट के आयोजन में असमर्थता जताता है तो उसके लिए पहले से तैयारी होनी चाहिए, ताकि अफरा-तफरी की स्थिति पैदा न हो. इसलिए उसने अभी से श्रीलंका व यूएई को पुरुष टी-20 विश्व कप 2021 के बैकअप वेन्यु के तौर पर रखा गया है.

प्रोटोकॉल के तहत किया गया है ऐसा

आईसीसी ने पिछले हफ्ते ही यह जानकारी दी थी कि 2021 व 2022 में टी-20 विश्व कप क्रमश: हिंदुस्तान व ऑस्ट्रेलिया में होगा. बता दें कि किसी भी वैश्विक टूर्नामेंट में बैकअप वेन्यु का एक मानक प्रोटोकॉल होता है, लेकिन कोरोना वायरस के कारण इस बार कोविड-19 महामारी के कारण इस बार इसका खास महत्व है. रिपोर्ट में बोला गया है कि कोविड-19 महामारी से हिंदुस्तान दुनिया का तीसरा सबसे बुरी तरह प्रभावित देश है. वहां अब तक 20 लाख से अधिक मुद्दे सामने आ चुके हैं व 45,000 से अधिक मौतें हो चुकी हैं व यह अब भी बहुत तेजी से बढ़ता जा रहा है.

आईपीएल भी हो रहा है यूएई में

बता दें कि देश में कोरोना वायरस की मौजूदा स्थिति को देखते हुए आईपीएल (IPL) यूएई में कराना पड़ रहा है. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने यह ऐलान कर रखा है कि 19 सितंबर से लेकर 10 नवंबर के बीच आईपीएल यूएई के शारजाह, अबु धाबी व दुबई शहर में खेला जाएगा. इसके अतिरिक्त घरेलू सत्र के लिए भी वह अस्थायी योजना पर कार्य कर रहा है. लेकिन बीसीसीआई ने अब तक घरेलू क्रिकेट के लिए विंडो जारी नहीं किया है.