इंडिया -ए टीम में शामिल होने के बाद पांचाल को जल्द भारतीय टेस्ट टीम में स्थान बनाने की उम्मीद

इंडिया -ए टीम में शामिल होने के बाद पांचाल को जल्द भारतीय टेस्ट टीम में स्थान बनाने की उम्मीद

 बोला जाता है कि अगर बतौर बल्लेबाज आप रन बनाते हैं तो आपके टैलैंट की कद्र होती है व आपको जरूर टीम इंडिया या आईपीएल जैसे बड़े मंच में खेलने का मौका मिलता है। लेकिन ये बात गुजरात के एक बल्लेबाज पर फिट नहीं बैठती। बात हो रही है प्रियांक पांचाल की जो वर्ष 2014/15 सीजन से ही रनों की बरसात कर रहे हैं बावजूद इसके उन्हें ना टीम इंडिया में स्थान मिल रही है व ना ही कोई आईपीएल फ्रेंचाइजी उनपर दांव लगा रही है। हालांकि गुजरात का ये सलामी बल्लेबाज उम्मीद नहीं हारा है व इंडिया -ए टीम में शामिल होने के बाद पांचाल को जल्द भारतीय टेस्ट टीम में स्थान बनाने की उम्मीद है।



पांचाल को सेलेक्शन की उम्मीद
बंगाल के विरूद्ध रणजी मैच खेलने आए प्रियांक पांचाल ने कोलकाता के ईडन गार्डन्स में बोला कि वो इस बात से ही खुश हैं कि उनका नाम टीम इंडिया में सेलेक्शन के लिए लिया जा रहा है। वो सिर्फ रन बनाना चाहते हैं व इसी पर उनका ध्यान है। बता दें पांचाल को न्यूजीलैंड दौरे पर जा रही इंडिया -ए टीम में चुना गया है।

पांचाल क्यों हैं खास?

प्रियांक पांचाल गुजरात के ओपनर हैं व वो जसप्रीत बुमराह के दोस्त भी हैं। प्रियांक पांचाल आरंभ से ही जसप्रीत बुमराह के विरूद्ध खेलते आ रहे हैं। नेट्स पर वो बुमराह के साथ ट्रेनिंग करते हैं। संसार में बहुत कम बल्लेबाज हैं जो बुमराह के विरूद्ध निडर होकर खेलते हैं, उनमें पांचाल भी शामिल हैं। पांचाल का रिकॉर्ड भी कमाल है। इस खिलाड़ी ने अबतक 90 फर्स्ट क्लास मैचों में 46.83 के औसत से 6417 रन ठोके हैं। पांचाल के नाम 22 शतक व 24 अर्धशतक हैं। लिस्ट ए क्रिकेट में भी पांचाल 39.90 के औसत से 2594 रन बना चुके हैं, जिसमें उनके बल्ले से 4 शतक भी निकले हैं।

प्रियांक पांचाल रणजी ट्रॉफी में वर्ष 2014/15 सीजन से ही रनों की बरसात करते आ रहे हैं। पांचाल ने 2014/15 रणजी ट्रॉफी में 537 रन बनाए जिसमें उनका औसत 41.30 था। इसके बाद उनके बल्ले से 2015/16 में 55.41 की औसत से 665 रन निकले। 2016/17 में तो पांचाल ने गजब ही कर दिया। इस बल्लेबाज ने 87.33 की औसत से 1310 रन ठोक डाले। इसके बावजूद उन्हें आईपीएल जैसे मंच पर मौका नहीं मिला। वर्ष 2017/18 में पांचाल ने 60.22 की औसत से 542 व 2018/19 में 59.87 की औसत से 898 रन ठोके। साफ है इस बल्लेबाज में टैलेंट है व अगर ये बल्लेबाज न्यूजीलैंड ए दौरे पर रनों का अंबार लगाता है तो टीम इंडिया इस खिलाड़ी को अनदेखा नहीं कर पाएगी।