IND vs NZ Test Series: विराट कोहली के पास इतिहास रचने का ये सुनहरा मौका

IND vs NZ Test Series: विराट कोहली के पास इतिहास रचने का ये सुनहरा मौका

IND vs NZ Test Series: वनडे के बाद भारतीय क्रिकेट टीम अब न्यूजीलैंड के विरूद्ध टेस्ट सीरीज खेलने के लिए तैयार है. टीम इंडिया ने न्यूजीलैंड के दौरे में अब तक कुल 5 मैच जीते हैं. ये सभी टी20 इंटरनेशनल मुकाबले थे. वनडे सीरीज में उसे 0-3 से पराजय झेलनी पड़ी. अब टेस्ट सीरीज की बारी है. टीम इंडिया का न्यूजीलैंड के विरूद्ध टेस्ट मैचों में ओवरऑल रिकॉर्ड बेहतर है.

टीम इंडिया ने न्यूजीलैंड के विरूद्ध अब तक 57 टेस्ट मैच खेले हैं. इसमें उसने 21 को अपने नाम किया है, जबकि 10 में न्यूजीलैंड ने सफलता हासिल की है. 26 टेस्ट मैच ड्रॉ रहे हैं. हालांकि, न्यूजीलैंड में टीम इंडिया का रिकॉर्ड अच्छा नहीं है. टीम इंडिया ने न्यूजीलैंड में अब तक 23 टेस्ट मैच खेले हैं. इनमें से वह सिर्फ 5 में जीत हासिल कर पाई है, जबकि 8 में उसे पराजय झेलनी पड़ी है. दस टेस्ट मैच ड्रॉ रहे हैं.

भारत को पहला टेस्ट मैच वेलिंगटन व दूसरा क्राइस्टचर्च के मैदान पर खेलना है. वेलिंगटन में टीम इंडिया का टेस्ट में रिकॉर्ड बहुत बेकार रहा है. उसने अब तक 7 टेस्ट मैच खेले हैं. इसमें वह सिर्फ एक में ही जीत हासिल कर पाई है. उसे इस मैदान पर 52 वर्ष से टेस्ट जीत का इंतजार है. टीम इंडिया ने वेलिंगटन में अपनी आखिरी टेस्ट जीत 29 फरवरी 1968 को हासिल की थी. तब उसने न्यूजीलैंड को 8 विकेट से हराया था. उस टेस्ट मैच में भारतीय क्रिकेट टीम की कमान मंसूर अली खान पटौदी के हाथों में थी.

उनके बाद से कोई भी भारतीय कैप्टन अपनी अगुआई में इस मैदान पर टीम इंडिया को टेस्ट मैच में जीत नहीं दिला पाया. ऐसे में विराट कोहली के पास वेलिंगटन में इतिहास रचने का मौका है. वे अपनी अगुआई में इस मैदान पर हिंदुस्तान को टेस्ट जीत दिलाने दूसरे कैप्टन बन सकते हैं. साथ ही वेलिंगटन में चले आ रहे पिछले 52 वर्ष के जीत के सूखे को भी समाप्त कर सकते हैं.

1968 के बाद से टीम इंडिया ने वेलिंगटन में अब तक 6 टेस्ट मैच खेले हैं. इसमें से 4 में उसे पराजय मिली है, जबकि 2 ड्रॉ पर छूटे. उसने इस मैदान पर अपना आखिरी टेस्ट मैच 14 फरवरी 2014 को खेला था. वह मैच ड्रॉ रहा था. उस मैच में विराट कोहली व भारतीय क्रिकेट टेस्ट टीम के उप कैप्टन अंजिक्य रहाणे ने शतक लगाए थे. विराट कोहली ने अपना आखिरी टेस्ट शतक पिछले वर्ष 22 नवंबर को कोलकाता में खेले गए पहले डे-नाइट टेस्ट मैच में लगाया था. ऐसे में उनके पास 2017 के बाद लगातार दूसरा टेस्ट शतक लगाने का भी मौका है.