कोरोना खत्‍म होने के बाद खेती करेंगे हरभजन सिंह

कोरोना खत्‍म होने के बाद खेती करेंगे हरभजन सिंह

नई दिल्‍ली। हिंदुस्तान के अनुभवी ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) ने खुलासा किया है कि कोरोना वायरस (Coronavirus) खत्‍म होने के बाद वह पंजाब लौटेंगे व किसान बनेंगे। टीम इंडिया (Team India) के स्‍टार ऑफ स्पिनर आर अश्विन (R Ashwin) के साथ इंस्‍टाग्राम पर लाइव सेशन के दौरान हरभजन सिंह ने इसका खुलासा किया। 39 वर्ष के हरभजन ने इस सेशन के बताया कि वह किस तरह से खेती करेंगे व जरूरतमंद लोगों को खाना बांटेंगे।

अश्विन के पूछने पर कि संसार इस संकट से कैसे बाहर आएगी तो हरभजन ने बोला कि यह सब इसलिए हो रहा है, क्‍योंकि भगवान हमसे चाहते हैं कि हम कुछ चीजें व सीखें। उन्‍होंने खुद के बारे में बताया कि वह वह अक्‍सर यात्रा करते रहते थे। घर पर पूरा समय नहीं बिता पाते। हरभजन ने बोला कि शायद हम सभी पैसों के पीछे भाग रहे थे। हम लालची तरह के हो गए थे। अब भगवान ने हमें खुद को देखने का मौका दिया है। ये देखने का मौका दिया है कि हम कहां पर खड़े हैं व क्‍या वस्तु जिंदगी में अहम है। सिर्फ पैसा कमाने के पीछे मत भागो।

जीने के लिए प्‍यार की जरूरत
हरभजन ने बोला कि जिस तरह उन्‍होंने पैसा कमाया है, शायद वह उसे बची हुई जिंदगीभर में खर्च न कर पाएं। जिंदगी जीने के लिए ज्‍यादा पैसों की आवश्यकता नहीं है। सिर्फ थोड़े पैसों की आवश्‍यकता है। हरभजन ने बोला कि क्‍या हमें प्‍यार व दूसरों के देखभाल की आवश्यकता नहीं है। इस कठिन समय से हमें सीखना होगा।

ये है हरभजन की योजना
अपनी योजना के बारे में बताते हुए हरभजन (Harbhajan Singh) ने बोला कि यह सब खत्‍म होने के बाद वह पंजाब जाएंगे व बहुत ज्यादा ज्‍यादा खेत खरीदेंगे। जहां पर वह सब्जियां व गेंहू लगाना प्रारम्भ करेंगे। भज्‍जी ने बताया कि वह किसान बनेंगे। इसके बाद बिना पैसे लिए खाना बांटेंगे। वो खाना मंदिर में जाएगा। जरूरतमंद लोगों के पास जाएगा। इधर उधर भागने की बजाय इससे उन्‍हें ज्‍यादा संतुष्टि मिलेगी। सिर्फ पैसा कमाना ही वो वस्तु नहीं है, जिसके लिए वे सब यहां पर हैं। एक दूसरे की मदद करना भी अहम है।