इंग्लैंड 1000+ टेस्ट खेलने वाले इकलौता देश

इंग्लैंड 1000+ टेस्ट खेलने वाले इकलौता देश

इंग्लैंड विदेशी मैदान पर 500 टेस्ट खेलने वाला पहला देश बन गया. उसने दक्षिण अफ्रीका के विरूद्ध गुरुवार से पोर्ट एलिजाबेथ में प्रारम्भ हुए तीसरे टेस्ट में यह उपलब्धि हासिल की. सीरीज में दोनों टीमें वैसे 1-1 की बराबरी पर है. इंग्लैंड ने पहला टेस्ट 15 मार्च 1877 को ऑस्ट्रेलिया के विरूद्ध मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड (एमसीजी) पर खेला था. तब उसे 45 रन से पराजय का सामना करना पड़ा था. तब जेम्स लिलीवाइट टीम के कैप्टन थे.

इंग्लैंड की टीम अब तक विदेशी मैदान पर 149 मैच जीते. 182 मुकाबलों में उसे पराजय का सामना करना पड़ा. विदेशी मैदान पर सबसे ज्यादा टेस्ट खेलने के मुद्दे में दूसरे जगह पर ऑस्ट्रेलियाई टीम है. उसने 404 मैच में 147 जीते. 125 मुकाबलों में पराजय मिली. 131 मैच ड्रॉ रहे.

भारत विदेशी मैदान पर 268 टेस्ट में सिर्फ 51 जीता
भारत ने विदेशी मैदान पर 268 मैच खेले. इस दौरान 51 में जीत मिली. वहीं, 125 मुकाबलों में पराजय का सामना करना पड़ा. 104 मैच ड्रॉ रहे. भारतीय टीम विदेशी मैदान पर टेस्ट मैच पिछली बार वेस्टइंडीज के विरूद्ध खेली थी. तब दो टेस्ट की सीरीज को उसने 2-0 से अपने नाम किया था.

इंग्लैंड 1000+ टेस्ट खेलने वाले इकलौता देश
ओवरऑल रिकॉर्ड की बात करें तो इंग्लैंड सबसे ज्यादा टेस्ट खेलने वाला देश है. उसने 1021 टेस्ट खेले. इस दौरान 369 में उसे जीत मिली. वहीं, 304 टेस्ट में पराजय मिली. 347 मुकाबले ड्रॉ रहे. ऑस्ट्रेलिया ने 830 टेस्ट में 393 मैच जीते. 224 में उसे पराजय मिली. 211 टेस्ट ड्रॉ रहे. वेस्टइंडीज ने 545 टेस्ट में 174 जीते. 195 में उसे पराजय का सामना करना पड़ा. 175 मुकाबले ड्रॉ रहे. हिंदुस्तान ने अब तक 540 टेस्ट खेले हैं. इस दौरान 157 में उसे जीत मिली. 165 में पराजय मिली व 217 मैच ड्रॉ रहे.