हम आतंक पर अमेरिकी युद्ध लड़ रहे थे पाक का 9/11 से कोई लेना-देना नहीं :  इमरान खान

हम आतंक पर अमेरिकी युद्ध लड़ रहे थे पाक का 9/11 से कोई लेना-देना नहीं :  इमरान खान

पाक के पीएम इमरान खान ने स्वीकार करते हुए बोला कि पाक में 40 भिन्न-भिन्न आतंकी समूह सक्रिय थे. जिसे पिछले 15 वर्षों में यहां की सरकारों ने अमेरिका से इस बात को छिपाकर रखा. पाकिस्तान पीएम ने कहा, "हम आतंक पर अमेरिकी युद्ध लड़ रहे थे. पाक का 9/11 से कोई लेना-देना नहीं है. अलकायदा अफगानिस्तान में था. पाक में कोई आतंकी तालिबान नहीं थे. लेकिन हम अमेरिकी युद्ध से जुड़े. दुर्भाग्य से, जब चीजें गलत हुईं, जहां मैं अपनी सरकार को जिम्मेदार मानता हूं, हमने अमेरिका को जमीनी सच नहीं बताई." वह कैपिटल हिल के लोगों को संबोधित कर रहे थे, जिसे कांग्रेस पार्टी विमेन शीला जैक्सन ली ने होस्ट किया था.

Image result for  इमरान खान

शीला कांग्रेसनल पाक कॉकस की चेयरपर्सन हैं. वह कांग्रेसनल कॉकस ऑन इंडिया व भारतीय अमेरिकन्स की भी मेम्बर हैं. खान ने सांसदों को समझाया कि पाकिस्तानी सरकार नियंत्रण में नहीं थी. इमरान खान ने आगे कहा, "40 भिन्न-भिन्न तरह के आतंकवादी संगठन पाक में संचालित थे. इसलिए पाक एक ऐसे दौर से गुजरा है, जहां हमारे जैसे लोग चिंतित थे कि क्या हम जीवित रह पाएंगे.

तो जब अमेरिका हमसे व ज्यादा करने व युद्ध में जीतने के लिए मदद की उम्मीद कर रहा था, उस समय पाक अपने अस्तित्व के लिए लड़ रहा था." खान ने बोला कि यह बहुत जरूरी था कि वह राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप व अन्य शीर्ष अमेरिकी नेताओं से मिले.खान ने बोला कि वह इस बातचीत को प्रारम्भ करने के लिए तालिबान को राजी करने के वास्ते अपना सर्वश्रेष्ठ कोशिश कर रहे हैं. अमेरिका के तीन दिन के व्यस्त दौरे के आखिरी प्रोग्राम में खान ने उम्मीद जताई कि अब अमेरिका-पाक संबंध अलग स्तर पर हैं. उन्होंने अफसोस जताते हुए कहा, "दोनों राष्ट्रों के बीच शक-शुबहा को देखना दुखद है. हम उम्मीद करते हैं कि अब से हमारा रिश्ता अलग स्तर पर होगा."