जल्द TikTok बैन करेगा ऐसे विडियो, भूल से भी ना करे इसे नज़रंदाज़

जल्द TikTok  बैन करेगा ऐसे विडियो, भूल से भी ना करे इसे नज़रंदाज़

चाइनीज़ वीडियो ऐप TikTok ने अपने प्लेटफॉर्म से 60 लाख वीडियो डिलीट कर दिया है। कंपनी ऑफिशियल ने बताया कि ये वीडियोज़ हिंदुस्तान की गाइडलाइंस का उल्‍लंघन कर रहे थे। वीडियो बैन करने का मकसद TikTok प्‍लेटफॉर्म से अवैध व अश्‍लील कंटेंट को हटाना था। सरकार ने TikTok को नोटिस भेजा है। इस नोटिस में 21 सवाल पूछे हैं व बोला है कि इसका संतोषजनक जवाब दें नहीं तो बैन के लिए तैयार रहें। इनमें बच्‍चों के ऐप के गैरकानूनी इस्‍तेमाल व अश्‍लील व कथित रूप से एंटी-नेशनल कंटेंट से जुड़ी बातें शामिल हैं।

Image result for TikTok

साथ ही सरकार ने नोटिस भेजकर सुनिश्चित करने को बोला है कि उनके प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल किसी भी तरह की देश-विरोधी गतिविधि के लिए नहीं हो रहा है व लोगों का डेटा अभी व भविष्य में किसी सरकार को ट्रांसफर नहीं किया जाएगा।
TikTok की पेरेंट कंपनी Beijing Bytedance Technology Co. ने बताया कि हिंदुस्तान में ऐप के 20 करोड़ से ज्‍यादा यूज़र्स हैं। TikTok इंडिया के डायरेक्‍टर (सेल्‍स एंड पार्टनरशिप्‍स) सचिन शर्मा ने बोला है कि कंपनी अपनी कम्‍युनिटी गाइडलाइंस का उल्‍लंघन करते कंटेंट का किसी तरह समर्थन या प्रमोशन नहीं करती।

सचिन शर्मा का बोलना है कि 10 भाषाओं को सपोर्ट करने वाली TikTok अवैध वीडियो को ऐप पर रिलीज़ होने से पहने ही ब्लॉक कर देती है। यूजर्स को पॉजिटिव इन-ऐप इन्वाइरनमेंट देने का वादा निभाते हुए कंपनी ने जुलाई 2018 से अब तक 60 लाख ऐसे विडियोज को हटाया है जो कम्यूनिटी गाइडलाइन्स का पालन नहीं कर रहे थे।

कैसे कार्य करती है टिकटॉक?
टिकटॉक एक सोशल मीडिया ऐप है। इसके जरिए Smart Phone उपभोक्ता छोटे-छोटे वीडियो बनाते हैं व शेयर करते हैं। इसकी खास बात यह है कि इस पर उपभोक्ता अपनी आवाज में वीडियो नहीं डाल सकता। उसे बस अपने होंठ चलाने होते हैं यानि 'लिपसिंक' करना होता है। इसपर किसी वीडियो अवधि की लिमिट 15 सेकेंड है।