इस बिमारी से बचने लिए आयरन के साथ यह vitamin है बहुत महत्वपूर्ण

इस बिमारी से बचने लिए आयरन के साथ यह vitamin है बहुत महत्वपूर्ण

एनीमिया में शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं की कमी आती है. इसमें हीमोग्लोबिन का बनना कम हो जाता है. हीमोग्लोबिन की कमी से शरीर को पर्याप्त ऊर्जा नहीं मिल पाती है. एनीमिया को जड़ से समाप्त करने के लिए संतुलित व पोषक तत्वों से भरपूर डाइट लें. आज जानते हैं कि किन चीजों को खाने से एनीमिया की समस्या दूर होती है.

नॉनवेज से भी लाभ
जो लोग मांसाहार का सेवन करते हैं, उनके लिए एनीमिया से लड़ना सरल होता है. पर, ध्यान दें कि आप मांसाहार में भी किडनी, लीवर व ब्रेन जैसे हिस्सों का सेवन करें, क्योंकि इनमें आयरन की मात्रा ज्यादा होती है.

सूखे मेवे व फल
एनीमिया की शिकायत है तो खजूर, बादाम व किशमिश आदि को अपनी डाइट में शामिल करें. इनमें आयरन भरपूर मात्रा में होता है. फलों में खजूर, तरबूज, सेब, अंगूर, किशमिश व अनार खाने से खून बढ़ता है. अनार खाना एनीमिया में बहुत ज्यादा लाभ होता है. प्रातः काल खानी पेज गुड़ व चना लेने से भी फायदा मिलता है.

हरी सब्जियां
एनीमिया से बचाव के लिए पालक, चौलाई, ब्रोकली, पत्तागोभी, गोभी, शलजम व शकरकंद जैसी सब्जियां स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छी होती हैं. इनसे शरीर में हीमोग्लोबिन की मात्रा बढ़ती है. इन सब्जियों में से कुछ को खाने से स्टोन बनने की टेंडेंसी बढ़ती है. इसलिए स्टोन के रोगी इन सब्जियों को खाने से पहले अपने डॉक्टर से बात जरूर कर लें.

अजवायन
अजवायन के नियमित प्रयोग से एनीमिया में बचाव होता है. अजवायन को पानी में उबाल लें व छानकर ठंडा करके पीएंं. अजवायन का पानी पीने व खाने में इसे प्रयोग करने से शरीर में सूजन नहीं आएगी व आयरन की कमी भी नहीं होगी.

एनीमिया के लिए विटामिन-सी महत्वपूर्ण
भोज्य पदार्थों से मिलने वाला आयरन को शरीर में अवशोषित करने के लिए विटामिन सी का होना महत्वपूर्ण है. अगर हम अधिक मात्रा में आयरन वाली डाइट लेते हैं व विटामिन सी वाली डाइट नहीं लेते हैं तो भी शरीर का आयरन नहीं मिलेगा. इसके लिए अपनी डाइट में संतरा, आंवला, कीनू व नीबू आदि को शामिल करें. इससे फायदा मिलेगा.
खाने के बाद न लें कैफीन प्रोडक्ट
चाय व कॉफी की आदत से एनीमिया का खतरा बढ़ जाता है. अगर पीते भी हैं तो कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए जैसे अधिक न पीएं. खाने तुरंत बाद चाय पीने से खाने में उपस्थित आयरन शरीर को नहीं मिल पाता है. चाय में उपस्थित टैनिन नाम का कैमिकल शरीर को खाने का पूरा पोषण ग्रहण नहीं करने देता है यानी खाने का सारा पोषण आपके शरीर को नहीं मिल पाता है.

इनका रखें ध्यान
कुछ लोग एनीनिया की संभावना के आधार पर ही आयरन के सप्लीमेंट लेने लगते हैं. ऐसा बिल्कुल न करें. बिना चिकित्सक की सलाह से आयरन की गोलियों का सेवन बिल्कुल न करें. खून की जाँच व चिकित्सक की सलाह लेने के बाद ही इनका सेवन करें, क्योंकि शरीर में आयरन की अधिकता आपके लिए मुसीबत बन सकता है.