किसी शक्ति पीठ से कम नहीं है लखनऊ का श्री नर्मदेश्वर महादेव मन्दिर, यहाँ भक्तों कि होती है हर एक मनोकामना पूरी

किसी शक्ति पीठ से कम नहीं है लखनऊ का श्री नर्मदेश्वर महादेव मन्दिर, यहाँ भक्तों कि होती है हर एक मनोकामना पूरी

लखनऊ: आपने लखनऊ के मटियारी चिनहट का नाम तो सुना ही होगा, मटियारी से देवा रोड पर मात्र एक किलोमीटर बढ़ने पर रोड पर आने वाले एक्सिस बैंक के विपरीत साइड एक रास्ता बाएँ अन्दर कि ओर जाता है जिसे आस्था नगर कहते हैं। देवा रोड से इस रास्ते पर महज 100 से 150 मीटर अन्दर जानें पर एक भव्य व अति सुन्दर मन्दिर का दर्शन होता है जहां पहुँचकर आत्मा को असीम शान्ति मिलती है इसी मन्दिर का नाम है श्री नर्मदेश्वर महादेव मन्दिर, अगर यहाँ के लोगों कि मानें तो इस मन्दिर में साक्षात भगवान महादेव विराजमान हैं क्योंकि लोगों कि धारणा है कि इस मन्दिर से कोई भी खाली हाथ नहीं जाता यहाँ सच्चे श्रद्धा के साथ मांगी गई हर एक मन्नत अवश्य पूरी होती है। इतना ही नहीं यहाँ के पुजारी आचार्य श्री ब्रह्म प्रकाश मिश्र जी महाराज किसी सिद्ध पुरुष से कम नहीं हैं। बताते चलें कि बड़े ही सरल स्वभाव के धनी आचार्य श्री ब्रह्म प्रकाश मिश्र जी महाराज शास्त्रों के साथ-साथ ज्योतिष एवं अन्य जनमानस के लिए हितकारी व कल्याण कारी विधि व विद्याओं के ज्ञाता हैं।

अपनी बड़ी से बड़ी समस्या का समाधान पाने के लिए यहाँ पर लोग आचार्य श्री ब्रह्म प्रकाश मिश्र जी महाराज के शरण में आते हैं इतना ही नहीं पूर्वान्चल मीडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष और प्रधान संपादक श्री हरेराम सिंह जी ने जब यहाँ आए हुये कुछ लोगों से स्वयं बात-चित किया तों पाया कि वाकई मन्दिर के पुजारी आचार्य श्री ब्रह्म प्रकाश मिश्र जी महाराज के अन्दर लोक हित के लिए कल्याण कारी शक्तियाँ विराजमान हैं जिससे उनके शरण में आए लोगों के कई असाध्य रोग भी दूर हो चुके हैं और लोगों का कल्याण होता है। लोगों का कहना था कि आचार्य जी द्वारा बताए गए रास्ते पर चलकर बहुतों को फायदा पहुंचा है, कितनों कि उजड़ी जिंदगी फिर से खुशहाली के साथ पटरी पर लौट आई है तो कितनों के उजड़े घर दुबारा बस गए है और कितने तो ऐसे मिले जिनकी शादी ही नहीं हो रही थी जिनकी शादी इसी मन्दिर में आकर सफल हुयी और वो लोग सफलता पूर्वक अपना जीवन गुजार रहे हैं। कितने ऐसे मिले जो अपनी नौकरी किसी कारण से खो बैठे थे जिनकी नौकरी आचार्य जी के मार्ग दर्शन में और उनके आशीर्वाद से दुबारा प्राप्त हो गई यहाँ के लोगों से पूर्वान्चल मीडिया ग्रुप के प्रधान संपादक महोदय को यह भी पता चला कि इस मन्दिर के निर्माण व रख-रखाव में इस मन्दिर के अध्यक्ष श्री यू.पी. सिंह उर्फ उमरेन्द्र प्रताप सिंह जी का विशेष हाथ है उन्होने इस मन्दिर को भव्य बनाने के लिए रात-दिन मेहनत किया है, जिसके परिणाम स्वरूप यह मन्दिर आज चारों ओर अपनी ख्याति आ रहा है। यहाँ के लोगों ने बताया कि श्री यू.पी. सिंह उर्फ उमरेन्द्र प्रताप सिंह जी ने इस मन्दिर के लिए अपना तन, मन, धन सब कुछ समर्पित कर दिया है तब जाकर आज ये मन्दिर जनमानस के बीच में चर्चा का विषय बना है। अगर आप भी भगवान में विश्वास रखते हैं या आपकी कोई ऐसी इच्छा है जो अधूरी रह गई है जिसके लिए आपने अथक प्रयास किया हो फिर भी सफल नहीं हुये हैं तो आपको इस मन्दिर में आकर भगवान महादेव के सामने अपनी इच्छाओं व परेशानियों को अवश्य सच्चे मन से रखना चाहिए, भगवान महादेव आपकी हर इच्छा अवश्य पूरी करेंगे और ऐसे असाध्य रोग जिनसे डाक्टर भी हार मान जाते हैं यहाँ आकर भगवान महादेव कि कृपा से उनसे भी आसानी से छुटकारा मिल सकता है।