लुपुंग पंचायत के मुखिया को अपने कानों पर उस समय बिलकुल विश्वास नहीं हुआ जब पीएम मोदी ने लिया ....

लुपुंग पंचायत के मुखिया को अपने कानों पर उस समय बिलकुल विश्वास नहीं हुआ जब पीएम मोदी ने लिया ....

30 वर्ष के दिलीप कुमार रविदास हजारीबाग के कटकमसांडी ब्लॉक की लुपुंग पंचायत के मुखिया हैं. उन्हें अपने कानों पर उस समय बिलकुल विश्वास नहीं हुआ जब पीएम नरेंद्र मोदी ने रविवार को मन की बात प्रोग्राम में उनके नाम का जिक्र किया. लोकसभा चुनाव परिणाम के बाद अपनी पहली मन की बात में उन्होंने जल संरक्षण पर जोर दिया.

Image result for लुपुंग पंचायत के मुखिया पीएम मोदी

पीएम ने जल संरक्षण में सहयोग देने को लेकर कुछ लोगों के प्रयासों की सराहना की जिसमें रविदास भी शामिल हैं. मन की बात प्रोग्राम के बाद रविदास ने बोला कि उन्हें पीएम का 22 जून को एक लेटर मिला था. जिसमें मोदी ने उनकी पंचायत में जल संरक्षण के प्रयासों की सराहना की. उन्होंने कहा, 'जब मैंने रविवार को पीएम का प्रोग्राम सुना तो मैं अपने कानों पर विश्वास नहीं कर पाया.'

रविदास ने अपनी पहल के बारे में बताते हुए कहा, 'हर तरफ बढ़ती पानी की किल्लत के कारण मैंने शॉकपिट (पनसोखा) परियोजना की आरंभ की. यह गड्ढे बनाकर जमीन में व्यवस्थित रूप से अपशिष्ट जल को प्रवाहित करने की एक आसान प्रक्रिया है. इससे कई तरह की समस्याएं जैसे जल जमाव से निजात मिलती है. हमारी पंचायत में लोगों ने धीरे-धीरे इस विचार को अपनाना प्रारम्भ कर दिया.'

जब उनसे पूछा गया कि उनके पास शॉकपिट का विचार कहां से आया तो रविदास ने कहा, 'टीवी पर एक प्रोग्राम देखते हुए इसने मुझे प्रभावित किया. जिसमें बताया गया कि शॉकपिट भूजल को बढ़ाने में मदद करते हैं. इसमें बहुत कम निवेश की आवश्यकता पड़ती है. इसके बाद मैंने ग्राम सभा की बैठकों में इसे लेकर जागरूकता फैलाना प्रारम्भ कर दिया.'

युवा मुखिया ने बताया कि पिछले कुछ महीनों में उन्होंने 50 शॉकपिट बनाए हैं. 15 चापानल के सामने शॉकपिट बनाया गया. इसमें मुखिया मद से राशि खर्च की गयी. इन 15 शॉकपिट में जब चापानल में नहाने, कपड़ा धोने के बाद बर्बाद होनेवाले पानी पहुंचने लगा तो गांववालों को लाकर दिखाया गया कि इस तरह इस चापानल का पानी बर्बाद होने से बच रहा है. शॉकपिट बनने से भीषण गर्मी में भी चापानल से पानी निकल रहा है.

पीएम द्वारा पीठ थपथपाने से उत्साहित गांव ने सोमवार से व शॉकपिट बनाने का फैसला लिया है. रविदास ने कहा, 'हमने निर्णय लिया है कि हम स्कूल, मार्केट क्षेत्र, हैंडपंप पर भी शॉकपिट का निर्माण करेंगे. पीएम की सराहना ने सारे गांव को प्रेरित किया है.'

वहीं झारखंड के सीएम रघुबर दास का बोलना है कि सात जुलाई से प्रदेश सरकार जल संरक्षण को लेकर बड़े पैमाने पर एक मुहिम की आरंभ करेगी. जिसमें लोगों से इस अभियान में बहुत बड़ी संख्या में शामिल होने के लिए बोला जाएगा.