केन्द्र सरकार के इस नोटिस पर भड़की ममता कहा :" इनकम टैक्स के दायरे में न रखे..."

केन्द्र सरकार के इस नोटिस पर भड़की ममता कहा :" इनकम टैक्स के दायरे में न रखे..."

पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी व केन्द्र सरकार के बीच आए दिन किसी न किसी मामले को लेकर विवाद जारी रहता है. अब ताजा मुद्दा प्रदेश में उत्सव आयोजकों की एक शीर्ष संस्था दुर्गा पूजा समिति मंच को कर (टैक्स) का नोटिस जारी करने को लेकर है. ममता ने इस कदम के लिए केन्द्र सरकार पर निशाना साधा है. उन्होंने बोला कि पूजा समितियों को इनकम टैक्स के दायरे में नहीं रखा जाना चाहिए. चुनावों के दौरान हिंदू धर्म के नाम पर पॉलिटिक्स करने का बीजेपी पर आरोप लगाते हुए सीएम ने बोला कि वही लोग चुनावों के बाद दुर्गा पूजा आयोजकों से कर लेना चाह रहे हैं.

Related image

बनर्जी ने बोला कि चुनावों के दौरान, बीजेपी हिंदू धर्म की बात करती है व इसके बाद वे दुर्गा पूजा के आयोजकों से इनकम टैक्स इकट्टा करने का कोशिश कर रहे हैं. दुर्गा पूजा समितियों के मंच को इनकम टैक्स नोटिस कथित रूप से पिछले हफ्ते भेजा गया है. बनर्जी ने बोला कि यह त्योहार एक सामाजिक समारोह है, न कि एक वाणिज्यिक, जबकि सरकार के कुछ सामाजिक दायित्व भी हैं. दुर्गा पूजा समितियों के मंच को इनकम टैक्स विभाग ने उत्सव के दौरान अपने खर्चों पर रिटर्न दाखिल करने को बोला है. ममता के आरोपों पर चुटकी लेते हुए बीजेपी ने दावा किया कि ममता को भय है कि तृणमूल कांग्रेस पार्टी के नेताओं के नेतृत्व में इन समितियों के माध्यम से चिट फंड कंपनियों से लिया गया पैसा सामने आ सकता है.