उच्चतम न्यायालय ने राजीव सक्सेना को जारी किया नोटिस, जानिए ये है वजह

 उच्चतम न्यायालय ने राजीव सक्सेना को जारी किया नोटिस, जानिए ये है वजह

सुप्रीम न्यायालय ने अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर सौदे से जुड़े धनशोधन मुद्दे में सरकारी गवाह राजीव सक्सेना को उपचार कराने के लिए विदेश जाने की अनुमति देने के दिल्ली हाई कोर्ट के आदेश पर अंतरिम रोक लगा दी है.

साथ ही उच्चतम न्यायालय ने राजीव सक्सेना को नोटिस भी जारी किया है. प्रवर्तन निदेशालय की ओर से पेश हुए वरिष्ठ एडवोकेट व सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने न्यायालयको बताया कि आईटी व ब्लैक मनी कानूनों के कथित उल्लंघन पर कुछ नए तथ्य सामने आए हैं. इसी को लेकर उच्चतम न्यायालय ने राजीव को नोटिस जारी किया है.

इसके अतिरिक्त उच्चतम न्यायालय ने एम्स के निदेशक को मेडिकल बोर्ड का गठन करने का आदेश दिया है. ये टीम राजीव सक्सेना के स्वास्थ्य की रिपोर्ट तीन सप्ताह में न्यायालयमें दाखिल करेगी.

बुधवार को उच्चतम न्यायालय ने बोला कि हमें राजीव सक्सेना की स्वास्थ्य को भी देखना है व प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की संभावना को भी देखना है, जिसमें प्रवर्तन निदेशालय कह रही है कि सक्सेना विदेश से वापस नहीं आएगा.