इन होटलों 18 साल तक के बच्चों और युवाओं का प्रवेश पूरी तरह से निषेध

 इन होटलों 18 साल तक के बच्चों और युवाओं का प्रवेश पूरी तरह से निषेध

अब देश भर में कई ऐसे होटल शुरू हो गए हैं जहां पर 18 साल तक के बच्चों और युवाओं का प्रवेश पूरी तरह से निषेध कर दिया गया है। ऐसे होटल में केवल वयस्कों को प्रवेश मिल रहा है। इंटरनेट पर लोग ऐसे होटल को सर्च कर रहे हैं, जहां पर बच्चों और युवाओं का प्रवेश नहीं होता है। इसमें नए शादी-शुदा जोड़े और अन्य कपल्स भी शामिल हैं। हालांकि यह सुविधा देश में कुछ चुनिंदा होटलों में ही मिल रही है।

इसलिए लगाई रोक

होटल में यह नियम इसलिए लागू किया गया है, क्योंकि बच्चे होटल की प्रॉपर्टी को खराब करते हैं और शोर-शराबा करते हैं, जिससे अन्य मेहमानों को दिक्कत होती है। ऐसे होटलों में लोग काफी ज्यादा संख्या में बुकिंग करा रहे हैं। इन होटलों में बुकिंग भी 85 फीसदी तक बुकिंग देखने को मिल रही है।

आखिर क्यों बढ़ी डिमांड?

ऐसे होटलों की डिमांड विश्व के साथ ही भारत भी काफी जोर पकड़ रही है। इन होटल की डिमांड इसलिए बढ़ रही है क्योंकि लोग छुट्टियों में पूरी तरह से होटल में एकांत पसंद कर रहे हैं। बच्चों के चलते माता-पिता को अपने लिए समय नहीं मिल पाता है। ऐसे में यह लोग अपने लिए होटलों में जाना पसंद करने लगे हैं। लोग अब ऐसे होटलों व शहरों में फिर से भी जा रहे हैं, जहां वो पहले बच्चों के साथ जा चुके हैं।

ब्रेकफास्ट, वाई-फाई की सुविधा बेमानी

अब होटल की बुकिंग करते वक्त लोग मुफ्त नाश्ता, वाई-फाई जैसी सुविधाओं के बजाए इस बात को ज्यादा सर्च कर रहे हैं। इसके बजाए अब कपल्स के लिए खास तरह की सजावट, डाइनिंग की स्पेशल सुविधा को देख रहे हैं। हालांकि इस तरह के होटलों का विरोध भी हो रहा है, क्योंकि कुछ लोगों का मानना है कि पब्लिक स्पेस में बच्चों के लिए जगह होनी चाहिए। हालांकि सुरक्षा के लिहाज से होटलों को प्रबंध करना चाहिए, ताकि बच्चों को किसी तरह का कोई नुकसान न हो।