भारत की अनुभवी महिला बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु ने बोला, हिंदुस्तान को उच्च स्तर पर अच्छे कोचों की आवश्यकता

भारत की अनुभवी महिला बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु ने बोला, हिंदुस्तान को उच्च स्तर पर अच्छे कोचों की आवश्यकता

भारत की अनुभवी महिला बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु ने मंगलवार को बोला कि हिंदुस्तान को उच्च स्तर पर अच्छे कोचों की आवश्यकता है, जो खिलाड़ियों के खेल में महत्वपूर्ण सुधार कर सकें. अच्छे कोचों (खासकर विदेशी) के होने से खिलाड़ियों के खेल में महत्वपूर्ण सुधार होगा व इससे देश को नए चैंपियन मिलने में मदद मिलेगी.

पीएनबी मेटलाइफ जूनियर बैडमिंटन चैम्पियनशिप के सम्मान समारोह में शिरकत करने आईं सिंधु ने आगे कहा, 'हां, उच्च स्तर के प्रशिक्षकों की आवश्यकता है, जो खेल के बारे में बहुत ज्यादा अच्छे से जानते हैं व जो चैंपियन बना सकते हैं. गोपी सर एक महान खिलाड़ी व कोच रहे हैं. इसमें कोई संदेह नहीं है. अब हमें विदेशों से अन्य प्रशिक्षकों की आवश्यकता है ताकि वो हमारे खेल में महत्वपूर्ण परिवर्तन कर सकें. जिससे हमें मदद मिले.'

वर्ल्ड चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतकर इतिहास रचने वाली सिंधु ने कहा, 'निश्चित तौर पर थोड़ा दबाव तो रहता है लेकिन इस दुनिया चैंपियनशिप ने मुझे बहुत ज्यादा आत्मविश्वास दिया है. इसी आत्मविश्वास के साथ मैं आगे जाऊंगी. ओलंपिक में अभी समय है व इस दौरान मुझे बहुत ज्यादा टूर्नमेंट भी खेलने हैं. मैं ज्यादा दूर की नहीं सोचूंगी सिर्फ जिस टूर्नeमेंट में खेलूंगी उसी पर ध्यान दूंगी व जब एक बार न्यायालय पर उतर जाती हूं तो कुछ दबाव नहीं रहता सिर्फ अपना सर्वश्रेष्ठ देने की प्रयास करती हूं यही करूंगी.'

बता दें कि सिंधु वर्ल्ड चैंपियनशिप में स्वर्ण जीतने वाली पहली भारतीय हैं. उन्होंने पिछले महीने स्विट्जरलैंड के बासेल में खेली गई वर्ल्ड चैंपियनशिप में जापान की नाओमी ओकुहारा को मात दे यह खिताब जीता था. सिंधु ने साथ ही बोला है कि वर्ल्ड चैंपियन बनने के बाद उनके आत्मविश्वास में इजाफा हुआ व वह पहले से ज्यादा मजबूत हो गई हैं.