अगले एक से डेढ़ साल तक कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष पद से दूर रहेंगे राहुल गाँधी, बताई यह वजह

अगले एक से डेढ़ साल तक कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष पद से दूर रहेंगे राहुल गाँधी, बताई यह वजह

2019 लोकसभा चुनाव में मिली शर्मनाक पराजय के बाद राहुल गांधी ने 25 मई को बुलाई गई कांग्रेस पार्टी कार्यसमिति की मीटिंग के समक्ष पराजय की जिम्मेदारी लेते हुए कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद से इस्तीफे की पेशकश कर दी थी। हालांकि इस मीटिंग में ही मौजूद CWC के सभी सदस्यों ने सर्वसम्मति से राहुल गांधी के इस्तीफे को अस्वीकार कर दिया। इसके बाद भी राहुल अपने निर्णय पर अड़े रहे, साथ ही राहुल ने नया अध्यक्ष चुनने के लिए पार्टी के महान नेताओं को अगले एक महीने का वक़्त भी दिया है।

इस्तीफे की पेशकश के बाद से ही राहुल गांधी को मनाने का हर कोशिश विफल रहा। कांग्रेस पार्टी के कई बड़े नेताओं ने राहुल गांधी को सलाह दी है कि वो इस संकट के समय में पार्टी का नेतृत्व करते रहें। इस बीच राहुल लगातार नेताओं को कहते रहे कि वो अगले अध्यक्ष के चुनाव की प्रक्रिया प्रारम्भ कर दें। इसके साथ ही राहुल ने ये भी इशारा दिया कि वो पार्टी अध्यक्ष रहे बिना भी पार्टी के लिए काम करते रहेंगे। किन्तु आज CWC मीटिंग के तक़रीबन एक महीने बाद भी असमंजस की स्थिति कायम है।

सूत्रों के अनुसार राहुल अगले एक से डेढ़ साल तक कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष पद से दूर रहेंगे, बताया जा रहा कि कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने ही ये बीच का रास्ता राहुल गांधी के लिए निकाला है। इस दौरान राहुल गांधी बगैर किसी पद के देश भर में कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं से सीधे बातचीत करेंगे। वहीं नए कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष के चयन को लेकर जल्द ही कांग्रेस पार्टी कार्यसमिति की मीटिंग आयोजित की जा सकती है।