निर्भया के दोषी विनय का फांसी टालने का तिकड़म हुआ फेल, सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की अर्जी

निर्भया के दोषी विनय का फांसी टालने का तिकड़म हुआ फेल, सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की अर्जी

नई दिल्‍ली :को उच्चतम न्यायालय (Supreme Court) से बड़ा झटका लगा है। जस्टिस आर भानुमति की अध्यक्षता वाली पीठ ने दोषी विनय शर्मा की याचिका को खारिज कर दिया है। दरअसल, विनय ने राष्ट्रपति की ओर से दया याचिका खारिज करने के फ़ैसले को चुनौती दी थी। दोषी विनय ने उच्चतम न्यायालय में दाखिल याचिका में बोला था कि उनके मुद्दे में पॉलिटिक्स की गई है व राष्ट्रपति को भेजी गई सलाह पक्षपात वाली व पूर्वाग्रह से ग्रस्त है।

इससे पहले उच्चतम न्यायालय ने दया याचिका ठुकराए जाने के विरूद्ध मुकेश की अर्जी को खारिज कर दिया था। इसके साथ ही जस्टिस आर भानुमति की अध्यक्षता वाली 3 जजों की पीठ ने राष्ट्रपति के दया याचिका खारिज करने के निर्णय पर अपनी मुहर लगा दी थी। दरअसल, मुकेश ने उच्चतम न्यायालय में याचिका दायर कर राष्ट्रपति की दया याचिका खारिज करने के निर्णय को चुनौती दी थी। याचिका में 1 फरवरी के डेथ वारंट पर रोक लगाने की भी मांग की गई थी।

इसके बाद निर्भया के दोषियों को भिन्न-भिन्न फांसी दिए जाने की मांग को लेकर दायर केन्द्र सरकार की याचिका पर उच्चतम न्यायालय ने चारों दोषियों को नोटिस जारी कर जवाब मांगा था। केन्द्र सरकार ने दिल्ली उच्च न्यायालय के उस आदेश को चुनौती दी है, जिसमें उच्च न्यायालय ने बोला था कि दोषियों को भिन्न-भिन्न फांसी नहीं दी जा सकती है। इससे पहले उच्च न्यायालय में केन्द्र का पक्ष रखते हुए सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने बोला था कि दोषी की ओर से जानबूझकर देरी की जा रही है।