आज से राजस्थान में विधानसभा का सत्र, विश्वास प्रस्ताव लाएगी कांग्रेस पार्टी

आज से  राजस्थान में विधानसभा का सत्र, विश्वास प्रस्ताव लाएगी कांग्रेस पार्टी

आज राजस्थान में लंबे समय से जारी सियासी खींचतान के बाद विधानसभा का सत्र प्रारम्भ हो रहा है. दरअसल सीएम अशोक गहलोत की प्रतिनिधित्व वाली कांग्रेस पार्टी सरकार ने सत्र के दौरान विश्वास प्रस्ताव लाने को व मुख्य विपक्षी दल बीजेपी ने अविश्वास प्रस्ताव लाए जाने की घोषणा की है जिससे विधानसभा का यह सत्र बहुत ज्यादा हंगामेदार होने कि सम्भावना है. बता दें कि राजस्थान विधानसभा सत्र प्रारम्भ होने से अच्छा एक दिन पहले गुरुवार को सत्तारूढ़ कांग्रेस पार्टी और उसके सहयोगी दलों के विधायकों की मीटिंग हुई तो बीजेपी और उसके घटक दलों ने भी मीटिंग की.

लाइव अपडेट्स

-कांग्रेस ने अपने दो विधायकों विश्वेंद्र सिंह तथा भंवरलाल शर्मा का निलंबन रद्द किया. लेकिन दिन की सबसे जरूरी घटना पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट की सीएम अशोक गहलोत से मुलाकात रही. लगभग एक महीने की सियासी खींचतान का एक तरह से पटाक्षेप करते हुए दोनों नेता सीएम निवास में मिले.

-इसके बाद कांग्रेस पार्टी विधायक दल की मीटिंग हुई जिसमें पायलट और 18 अन्य विधायक भी शामिल हुए. मीटिंग में सीएम गहलोत ने विधानसभा में विश्वास प्रस्ताव लाने की घोषणा की.

-बैठक में उपस्थित रहे पार्टी के प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे ने पीटीआई भाषा से कहा,' कांग्रेस पार्टी विश्वास प्रस्ताव लाएगी. हमने इसके लिए विधानसभा सचिवालय को अर्जी दी है. विधानसभा की काम संचालन समिति इस बारे में कोई निर्णय लेगी.'

-गहलोत ने विधायक दल की मीटिंग में विधायकों से पिछले महीने भर में हुई बातों को भूलकर आगे बढ़ने को कहा. इसके साथ ही उन्होंने आश्वस्त किया कि सभी विधायकों की शिकायतें दूर होंगी. मीटिंग के बाद कांग्रेस पार्टी महासचिव के सी वेणुगोपाल ने बोला कि पार्टी एकजुट है व विधानसभा में एकजुटता से मुकाबला करेगी.
उन्होंने,'सबकुछ अच्छा रहा. अब कांग्रेस एकजुट है. हम बीजेपी की तुच्छ सियासी का एकजुटता से मुकाबला करेंगे' कांग्रेस पार्टी खेमे के विधायक अभी होटल में ही रुकेंगे व वहीं से विधानसभा पहुंचेंगे .