निर्भया गैंगरेप केसः जल्लाद पवन पहुंचा तिहाड़, कल चार पुतलों को देगा फांसी

निर्भया गैंगरेप केसः जल्लाद पवन पहुंचा  तिहाड़, कल चार पुतलों को देगा फांसी

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली में साल 2012 में हुए निर्भया गैंगरेप व हत्याकांड ( Nirbhaya Gang rape Case ) मुद्दे में चारों दोषी लगातार फांसी से बचने के लिए कोई न कोई चाल चल रहे हैं. कभी कानून का तो कभी पागलपन का सहारा लेकर अपनी सजा से बचने में लगे हैं.

वहीं 20 मार्च को होने वाली फांसी को लेकर बड़ा अपडेट सामने आया है.

निर्भया के दोषियों को फांसी देने के लिए मेरठ ( Meeruth ) का पवन जल्लाद ( Pawan jallad ) तिहाड़ कारागार ( Tihar Jail ) दिल्ली पहुंच गया है. आपको बात दें कि पटियाला हाउस न्यायालय ( Patiala House Court ) ने 20 मार्च के लिए चौथा डेथ वारंट ( Death Warrant ) जारी किया है. इसके तहत चारों दोषियों को 20 मार्च को प्रातः काल 5.30 बजे फांसी दी जानी है.

मेरठ से दिल्ली पहुंचा जल्लाद पवन तिहाड़ कारागार के गेस्ट हाउस में ही रुका है. 18 मार्च बुधवार को जल्लाद पवन मानवरूपी पुतलों को फांसी पर लटकाने का एक्सरसाइज करेगा. तिहाड़ में अब फांसी देने की तैयारी लगभग पूरी हो चुकी है.

आपको बता दें कि इससे पहले भी जल्लाद पवन दोषियों को फांसी देने की तैयारी कर चुका है. चार पुतलों को एक साथ फांसी सफलता पूर्वक जल्लाद पवन ने फांसी दे दी थी.

वहीं चारों दोषी लगातार फांसी से बचने के लिए कोई न कोई चाल चल रहे हैं. एक तरफ दोषियों के एडवोकेट मानव अधिकार आयोग ( NHRC ) पहुंचे तो वहीं दूसरी तरफ मुकेश ने न्यायालय में याचिका दाखिल कर दावा किया था कि गैंगरेप वाली रात वो दिल्ली में था ही नहीं.

खास बात यह है कि एनएचआरसी व दिल्ली उच्च न्यायालय दोनों ही स्थान दोषियों को झटका लगा. न्यायालय व एनएचआरसी ने इन याचिकाओं को पूरी तरह खारिज कर दिया.