महाराष्ट्र व गुजरात में जबरदस्त बारिश के चलते बाढ़ जैसे हालात, 2 लोगों की मौत

महाराष्ट्र व गुजरात में जबरदस्त बारिश के चलते बाढ़ जैसे हालात, 2 लोगों की मौत

अहमदाबाद: देश के बड़े हिस्से में दक्षिण पश्चिमी मॉनसून (Monsoon) की भारी बारिश का दौर प्रारम्भ हो चुका है। रविवार को महाराष्ट्र व गुजरात में जबरदस्त बारिश हुई। गुजरात के कई इलाकों में 48 घंटे से बारिश हो रही है। ऐसे में कई स्थान जलभराव हो गया है। राजकोट में हुई तेज बारिश से पानी इतना भर गया कि एक बोलेरो पुल से सीधे खोखरदार नदी में पलट गई। हादसे में एक शख्स पानी में डूब गया, जबकि दो लोगों ने किसी तरह से जान बचाई। वहीं, सुरेंद्रनगर जिले में बिजली गिरने से एक किसान की जान चली गई।

न्यूज़ एजेंसी PTI के मुताबिक, देवभूमि द्वारका जिले के खाम्भालिया तहसील में दिन में 434 मिलीमीटर बारिश हुई। इस तहसील में शाम 6 से रात 8 बजे के बीच दो घंटे के दौरान 292 मिलीमीटर बारिश हुई, जिससे इलाकों में बहुत ज्यादा पानी भर गया। अधिकारियों ने बताया कि सौराष्ट्र के पोरबंदर, गिर सोमनाथ, जूनागढ़ व अमरेली जिलों के साथ- साथ दक्षिण गुजरात के वलसाड व नवसारी जिलों में भी दिनभर भारी बरसात हुई। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के अहमदाबाद केन्द्र ने अगले तीन के दौरान सौराष्ट्र, उत्तर व दक्षिण गुजरात में भारी बारिश का पूर्वानुमान जताया है।

प्रदेश आपात अभियान केन्द्र के अनुसार, प्रातः काल से रात 8 बजे तक पोरबंदर के राणावाव में 152 मिलीमीटर, पोरबंदर में 120 मिलीमीटर, गिर सोमनाथ के सुत्रपाडा में 103 मिलीमीटर, नवसारी के चिखली में 99 मिलीमीटर, वलसाड के परदी में 98 मिलीमीटर बारिश हुई है।

बारिश के कारण जूनागढ़ की नदी में भी पानी ऊपर तक बह रहा है, ऐसे में लोकल लोगों को नदी के किनारे ना जाने की चेतावनी दी गई है।

बारिश से महाराष्ट्र में भी बुरा हाल है। महाराष्ट्र में सोमवार को चौथे दिन भारी बारिश का दौर जारी है। रविवार को मुंबई व आसपास के ठाणे, पालघर व रायगढ़ जिलों में मुसलाधार बारिश होती रही। मायानगरी के निचले इलाकों में पानी भर गया।

मौसम विभाग (IMD) ने अगले दो दिनों में मुंबई, ठाणे, पालघर, रायगढ़, रत्नागिरी, सिंधुदुर्ग में भारी से बहुत भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है