वर्षाजनित बीमारियों के लिए योगी सरकार ने कसी कमर

वर्षाजनित बीमारियों के लिए योगी सरकार ने कसी कमर

इंसेफेलाइटिस, डेंगू, चिकनगुनिया, मलेरिया और कालाजार (काला ज्वर) जैसी संक्रामक रोंगों के विरूद्ध यूपी में 1 जुलाई से बड़ा अभियान प्रारम्भ होने वाला है. इसमें स्‍वास्‍थ्‍य महकमे के साथ ही कई अन्‍य सम्‍बन्धित विभाग अपना सहयोग देंगे. मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने गुरुवार को टीम-9 के साथ मीटिंग के बाद इस संबंध में विस्‍तृत रूप से कार्ययोजना सामने रखी. उन्‍होंने बोला कि सभी विभागों को मिलकर इस अभियान को सफल बनाना होगा. 

सीएम योगी ने बताया कि पहले राज्य के 38 जिलों तक अभियान सीमित था, मगर राज्य के विभिन्न हिस्‍सों में भिन्न-भिन्न रोंगों के कहर के मद्देनज़र पूरे राज्य को इसमें शामिल कर लिया गया है. उन्‍होंने बोला है कि इंसेफेलाइटिस के लिहाज से कुशीनगर से सहारनपुर तक, डेंगू के लिहाज से मथुरा-फिरोजाबाद-आगरा-कानपुर-लखनऊ, मलेरिया के लिहाज से बरेली और आसपास, कालाजार के लिहाज से वाराणसी और आसपास के जनपद और चिकन गुनिया के लिहाज से बुंदेलखंड संवेदनशील क्षेत्र है.

किसी न किसी रूप में पूरा राज्य कम या अधिक रूप में इन रोंगों से प्रभावित है. रोग बढ़ती तब है जब हम कम की अनदेखी और ढिलाई करते हैं. इसीलिए हमने निर्णय लिया है कि पूरे राज्य में अभियान चलना चाहिए. उन्‍होंने बोला कि पहली जुलाई से प्रत्येक जिला, तहसील, ब्‍लॉक मुख्‍यालय पर, हर नगर निकाय, हर सार्वजनिक स्थल जैसे हॉस्पिटल आदि पर सूचना विभाग, स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के साथ मिलकर बड़े-बड़े होर्डिंग लगाएगा.


अयोध्या के हनुमान मंदिर में युवक की हत्या

अयोध्या के हनुमान मंदिर में युवक की हत्या

अयोध्या के कुमारगंज के हनुमान मंदिर का ये मामला है. 35 वर्ष के पुरुष की मर्डर उस समय हुई जब वो देर रात बगल के हनुमान मंदिर में सो रहा था. पुलिस अब मर्डर के पीछे के कारणों का पता लगा रही है.

अयोध्या के हनुमान मंदिर में एक पुरुष की मर्डर कर दी गई है. मृतक मंदिर में शो रहा था और उसकी गला रेत कर मर्डर कर दी गई है. पंकज शुक्ल अमेठी का रहने वाला बताया जा रहा है. अयोध्या के कुमारगंज के हनुमान मंदिर का ये मामला है. 35 वर्ष के पुरुष की मर्डर उस समय हुई जब वो देर रात बगल के हनुमान मंदिर में सो रहा था. पुलिस अब मर्डर के पीछे के कारणों का पता लगा रही है. कुमार गंज थाना के भुआपुर गांव में हनुमान मंदिर परिसर में सो रहे पंकज शुक्ला की मर्डर की जानकारी परिजनों को रविवार सुबह हुई. 

मृतक अमेठी के शिवरतन गंज क्षेत्र का रहने वाला था. पिछले दो महीने से वो अपने मामा के घर पर रह रहा था. पंकज रोज रात खाना खाने के बाद मंदिर में चला जाता था. रविवार की सुबह उसके मामा के घर के लोग मंदिर परिसर में गए थे पंकज का मृत शरीर खून से लथपथ पाया गया. उसके गले को धारदार हथियार से रेता गया था. उस घटना की जानकारी मिलने के बाद वहां पहुंची पुलिस ने उसके मृत शरीर को पोस्टमार्टम के लिए भेजा. 

अयोध्या जनपथ का भुआपुर गांव अमेठी जनपथ के पास स्थित है. अयोध्या के अंचल अधिकारी सत्येंद्र भूषण ने बोला कि भुआपुर गांव में हनुमान मंदिर परिसर के अंदर पुरुष का गला कटा हुआ मृत शरीर मिला. पीड़ित अमेठी का निवासी है, कभी-कभी मंदिर में सो जाता था. पोस्टमार्टम किया जा रहा है, प्राथमिकी दर्ज, जांच जारी है. हालांकि अभी तक पता नहीं चल पाया है कि पंकज की मर्डर गर्दन काट कर क्यों की गई, लेकिन इसी तरह गर्दन काटकर राजस्थान के उदयपुर में बीते 28 जून को दर्जी कन्हैया लाल की मर्डर कर दी गई थी.