मन को तरोताजा रखने के लिए अपनाए ये 6 टिप्स

मन को तरोताजा रखने के लिए अपनाए ये 6 टिप्स

Stay Happy: आज की भागदौड़ भरे ज़िंदगी में तनाव एक आम समस्या बन गया है. जिसके कारण डिप्रेशन जैसी कई मानसिक बीमारियां दबे पांव हमारे पास पहुंचने लगती हैं. इसे समय पर न रोका जाए तो आगे चलकर यह कई गंभीर बीमारियों को जन्म दे सकता है. लेकिन आप चाहे तो कुछ सरल से टिप्स अपनाकर तनाव को दूर कर सकते हैं. आइए जानते हैं तनाव दूर करने के कुछ टिप्स के बारे में 

लॉफिंग थेरेपी अपनाएं
कहते हैं कि हंसना अच्छी स्वास्थ्य के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है. हंसने से हमारा मन तो खुश रहता ही है, तनाव भी समाप्त हो जाता है. माना जाता है कि हेल्दी रहने के लिए लॉफिंग थेरेपी सबसे अच्छा इलाज है. इसके लिए आप कोई लॉफिंग क्लब ज्वॉइन करें, ताकि आप दिल खोलकर हंस सकें व अपनी स्वास्थ्य को भी अच्छा रख सकें.

डायरी लिखें
अगर आप सोचते हैं कि अब आपकी आयु डायरी या कोई आर्टिक्ल लिखने की नहीं है तो गलत सोच रहे हैं. डायरी या आर्टिक्ल लिखने की कोई आयु नहीं होती. थोड़ी ख़्वाहिश शक्ति की आवश्यकता होती है. फिर आगे का कार्य सरल हो जाता है. व इसके फायदे अनेक हैं. ऐसा करने से आपका मन खुश रहेगा, क्योंकि जब आप कोई भी डायरी या आर्टिक्ल लिखने बैठते हैं तो आपका दिमाग उस विषय पर चिंतन करने व उसे व निखारकर लिखने में व्यस्त हो जाता है, जिससे आप अपनी सारी परेशानियों को भूल जाते हैं. इसके लिए सबसे अच्छा उपाय है कि एक पेपर लें व अपने मन के सारे विचार उस पर खूबसूरती से उतारते चले जाएं. ऐसा करने से आपका मन खुश रहेगा व आपकी स्वास्थ्य भी अच्छी रहेगी.

कम्युनिकेशन स्किल्स सुधारें
एक स्वस्थ ज़िंदगी बिताने के लिए सबसे महत्वपूर्ण है कि आपकी कम्युनिकेशन स्किल्स अच्छी हो. यानी आप अपनी बात दूसरों के सामने अच्छीतरह रख सकें. कई बार ऐसा होता है कि किसी आदमी से आपका ठीक संवाद न हो पाने की वजह से गलतफहमियां पैदा हो जाती हैं, जिसका प्रभाव आपके संबंधों पर भी पड़ता है. ऐसे में आपका मूड भी बेकार रहता है व एक-दूसरे को देखते ही आप गुस्से में भी आ जाते हैं. आपकी स्वास्थ्य पर इसका बहुत गहरा प्रभाव पड़ता है. इसलिए महत्वपूर्ण है कि आपकी संवाद क्षमता अच्छी हो. इससे आपके संबंधों में मिठास बनी रहेगी व तनाव एक बड़ा कारण आपसे कोसों दूर रहेगा.

सक्रिय रहें
एक स्वस्थ व खुशहाल ज़िंदगी जीने के लिए आपको खुद को सक्रिय रखना चाहिए. दूसरों पर निर्भर रहकर आप टेंशन में रहेंगे, क्योंकि वह आपके कार्य को आपकी ही तरह कर दे, यह महत्वपूर्ण नहीं. तो क्यों न खुद को सक्रिय रखा जाए व अपने अधिक से अधिक कार्य खुद ही करने की प्रयास की जाए.

नकारात्मकता से बचें
अक्सर जब भी हम किसी निगेटिव वस्तु या आदमी से मिलते हैं तो हमारा ब्लड-प्रेशर हाई हो जाता है व हम डिप्रेस्ड फील करते हैं. यह स्थिति हमारी स्वास्थ्य पर सीधा प्रभाव डालती है. ऐसे में अगर आप स्वस्थ रहना चाहते हैं तो अपने आसपास से नकारात्मक चीजों व व्यक्तियों को दूर रखें. ऐसा करने से आप खुश रहेंगे व स्वास्थ्य भी अच्छा रहेगा.

सुबह सैर करें
स्वस्थ रहने के लिए प्रातः काल के समय सूरज की किरणें व स्वच्छ हवा बहुत लाभदायक होती है. प्रातः काल के समय सूरज की किरणों से निकलने वाला विटामिन डी हमारे शरीर व स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा होता है. प्रयास करें कि अपने टाइम-टेबल में मॉर्निग वॉक के लिए अलग से समय रखें.